पवार बोले- शुक्रवार को होऊंगा ED के सामने पेश, पर दिल्ली तख्त के सामने झुकेंगे नहीं

Whatsapp

मुंबई: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार ने मंगलवार को कहा कि वह प्रवर्तन निदेशालय द्वारा उनके खिलाफ दर्ज धनशोधन के मामले के सिलसिले में 27 सितंबर को एजेंसी के दफ्तर जाएंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वे दिल्ली के तख्त के सामने नहीं झुकेंगे। पवार ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की कार्रवाई के समय पर भी सवाल उठाया। ईडी ने 21 अक्टूबर को होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले ही यह कार्रवाई की है।

राकांपा अध्यक्ष ने कहा कि वह 27 सितंबर को दोपहर 2 बजे ईडी दफ्तर जाएंगे और महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक घोटाले के सिलसिले में जो भी जानकारी उनके पास होगी, एजेंसी को देंगे। पवार ने कहा कि मैं विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए अधिकतर मुंबई से बाहर रहूंगा। एजेंसी के अधिकारियों को यह नहीं समझना चाहिए कि मैं उपलब्ध नहीं हूं। मैं उनके पास जाऊंगा और जो भी जानकारी वे चाहते हैं, उन्हें दूंगा। उन्होंने कहा कि वह भारत के संविधान में भरोसा रखते हैं।

पवार ने कहा कि महाराष्ट्र, छत्रपति शिवाजी महाराज के विचारों पर चलता है। हमें दिल्ली तख्त के सामने झुकना नहीं आता। ईडी ने बंबई हाईकोर्ट के निर्देशों पर बैंक घोटाले के सिलसिले में पवार, उनके भतीजे अजीत पवार तथा 70 अन्य के खिलाफ धनशोधन का मामला दर्ज किया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि ईडी ने हाईकोर्ट के निर्देश पर मामला दर्ज किया है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि ईडी की कार्रवाई के पीछे राजनीतिक मकसद की बात करना और इसे राजनीतिक दुश्मनी बताना गलत होगा।