फिल्म ‘आर्टिकल 15’ का विरोध कर रहा ब्राह्मण समाज

Whatsapp

राष्ट्र चंडिका नई दिल्ली : अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद ने फिल्म में ब्राह्मणों के प्रति दुष्प्रचार का षड्यंत्र बताया है और ब्राह्मणों के चरित्र को ख़राब करने और सामाजिक सद्भावना को बिगाड़ने वाला कहा है.आयुष्मान खुराना की फिल्म ‘आर्टिकल 15’ का विरोध किया जा रहा है। यह फिल्म 28 जून को रिलीज होने जा रही है, ब्राह्मण समाज का कहना है कि इस फिल्म में ब्राह्मणों को बलात्कारी बताया गया है। फिल्म एक सत्य घटना पर आधारित है लेकिन उस घटना में दूर-दूर तक कहीं ब्राह्मणों का कोई लेना देना नहीं होने के बावजूद भी फिल्म के निर्माता एवं निर्देशक ने ब्राह्मण समाज को बेवजह इस फिल्म में घसीटा गया व बदनाम किया गया है। ब्राह्मण समाज का आरोप है कि- बेहद आपत्तिजनक बातें ब्राह्मण समाज के लिए फिल्मों में कही गई है जिससे समूचा ब्राह्मण समाज आक्रोशित है।

        फिल्म ‘आर्टिकल 15’ को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है. बदायूं रेप और मर्डर केस पर आधारित फिल्म में ब्राह्मणों को विलेन के रूप में दिखाने को लेकर एक तबके में गुस्सा है. अखिल भारतीय ब्रह्मण एकता परिषद द्वारा जातीय विद्वेष फ़ैलाने वाली फिल्म ‘आर्टिकल 15’ पर प्रतिबंध लगाने को लेकर प्रेस क्लब ऑफ़ इंडिया में प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया गया जहां पर अखिल भारतीय ब्रह्मण एकता परिषद ने फिल्म में ब्राह्मणों के प्रति इसे दुष्प्रचार का षड्यंत्र बताया है और ब्राह्मणों के चरित्र को ख़राब करने और सामाजिक सद्भावना को बिगाड़ने के लिए फिल्म निर्माताओं को जमकर लताड़ा. आर्टिकल 15 का ट्रेलर आने के बाद से ही ब्रह्मण समाज में विरोध के स्वर खुलकर सामने आ रहे हैं.

जाति पर बात करने वाली इस फिल्म का कुछ ब्राह्मण समूह भी लगातार विरोध कर रहे हैं. उनका कहना है कि फिल्म के जरिए ब्राह्मणों के खिलाफ गलत बातें फैलाई जा रही हैं. इस पर आयुष्मान खुराना ने पीटीआई से बात करते हुए विरोध करने वाले समूहों से कहा कि वे अपना वक्त खराब कर रहे हैं. उन्हें सही-गलत के लिए फिल्म देखनी चाहिए.

आयुष्मान खुराना ने पीटीआई से बातचीत में कहा –

आर्टिकल 15 भारतीय संविधान पर बात करती फिल्म है, जो जाति, धर्म, लिंग और जन्म के स्थान के आधार पर भेद को प्रतिबंधित करता है.

आर्टिकल 15 में आयुष्मान खुराना एक पुलिस ऑफिसर के किरदार में हैं. आयुष्मान के अलावा फिल्म में सयानी गुप्ता, कुमुद मिश्रा, मनोज पहवा और मोहम्मद जीशान अयूब भी मुख्य किरदार में हैं.