INX मामला: CBI कोर्ट में चिदंबरम पर सुनवाई, CBI ने मांगी 5 दिन की रिमांड

Whatsapp

नई दिल्ली: आईएनएक्स मीडिया मामले में गिरफ्तार किए गए पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम को सीबीआई कोर्ट में पेश किया गया। सीबीआई ने कोर्ट में चिदंबरम की पांच दिन की रिमांड की मांग की है। वहीं सॉलिसिटर तुषार मेहता ने चिदंबरम मामले में पूरी जानकारी दी। इस दौरान पी.चिदंबरम की पत्नी नलिनी और पुत्र कार्ति पूर्व केंद्रीय मंत्री का प्रतिनिधित्व करने वाले वरिष्ठ वकीलों के साथ सुनवाई से पहले दिल्ली की अदालत पहुंच गए। बता दें कि कोर्ट में पेशी से पहले केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने आईएनएक्स मीडिया मामले में पी. चिदंबरम से गुरुवार को पूछताछ की। सूत्रों ने बताया कि चिदंबरम के एजेंसी की हिरासत में रहने के दौरान अधिकारियों की एक टीम उनसे 100 से अधिक सवाल पूछे। ये सवाल मंजूरी की प्रक्रिया, आईएनएक्स मीडिया की प्रवर्तक इंद्राणी मुखर्जी से कथित मुलाकातों, कंपनी चेस मैनेजमेंट एंड एडवांटेज स्ट्रेटेजिक आदि से संबंधित हैं।

अधिकारियों ने बताया कि पुलिस उपाधीक्षक आर पार्थसारथी के अधीन अधिकारियों की एक टीम वित्त मंत्री के रूप में चिदंबरम के कार्यकाल के दौरान आईएनएक्स मीडिया में 305 करोड़ रुपए के विदेशी निवेश को मंजूरी दिए जाने में हुए कथित भ्रष्टाचार की जांच का नेतृत्व कर रही है। चिदंबरम (73) ने यहां सीबीआई मुख्यालय में भूतल पर स्थित एजेंसी के अतिथि गृह के सुइट नंबर पांच में रात गुजारी। आज सुबह 10 बजकर लगभग 20 मिनट पर पूछताछ शुरू करने से पहले उन्हें नाश्ता दिया गया। इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी द्वारा संचालित आईएनएक्स मीडिया को 2007 में (जब चिदंबरम वित्त मंत्री थे) विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी देने में कथित अनियमितताओं को लेकर सीबीआई ने 15 मई 2017 को मामला दर्ज किया था

सीबीआई ने इंद्राणी और पीटर मुखर्जी के साथ ही पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम, चेस मैनेजमेंट सर्विसेज एंड एडवांटेज स्ट्रैटजिक कंसल्टिंग लिमिटेड को भी नामजद किया था। पूर्व वित्त मंत्री को मामले में पूछताछ के लिए पिछले साल ही तलब किया गया था। वह पूछताछ के लिए पेश हुए थे। उनके बेटे कार्ति से भी एजेंसी कई बार पूछताछ कर चुकी है। चिदंबरम को नाटकीय घटनाक्रम के बाद बुधवार रात उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया गया था।