कमलनाथ के मंत्री का साध्वी प्रज्ञा पर तंज, बोले-मोदी की पार्टी के लोग नहीं सुनते तो साध्वी कैसे सुने

Whatsapp

भोपाल: प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छता अभियान पर सवाल उठाए जाने के बाद साध्वी प्रज्ञा एक बार फिर से विवादों से घिर गई हैं। पीएम मोदी के स्वच्छता अभियान पर विवादित बयान के बाद जहां बीजेपी में हड़कंप मच गया है वहीं सत्ता पक्ष ने मुद्दा लपकते हुए तंस कसना शुरु कर दिया है। सत्ता पक्ष उनके बयान को लेकर जमकर चुटकी ले रहा है और बीजेपी की कथनी और करनी पर सवाल उठा रहा है।

ANI

@ANI

BJP MP from Bhopal, Pragya Thakur in Sehore: Hum naali saaf karwane ke liye nahi bane hain. Hum aapka shauchalaya saaf karne ke liye bilkul nahi banaye gaye hain. Hum jis kaam ke liye banaye gaye hain, vo kaam hum imaandaari se karenge.

Embedded video

2,116 people are talking about this
दरअसल, रविवार को सीहोर पहुंची साध्वी प्रज्ञा ने स्थानीय लोगों से स्वच्छता अभियान को लेकर विवादित बयान दे दिया था। साध्वी ने कहा कि ध्यान रखिए, हमें नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बनाया गया है। हमें आपके शौचालय साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बनाया गया है। हम जिस काम के लिए बनाए गए हैं, वह काम हम ईमानदारी से करेंगे। यह हमारा पहले भी कहना था, आज भी कहना है और आगे भी कहेंगे। इस पर रविवार को सदन मे कार्यवाही के दौरान वाणिज्यकर मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने जमकर चुटकी ली। राठौर ने कहा कि जब पीएम नरेंद्र मोदी की बात पार्टी के लोग नहीं सुनते तो भला साध्वी कैसे सुनेंगी। यही बीजेपी की कथनी और करनी है।

बता दें कि यह कोई पहला मौका नहीं है। इससे पहले भी प्रज्ञा कई बार विवादित बयान दे चुकी हैं। उन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान राम मंदिर से लेकर नाथूराम गोडसे तक पर विवादित बयान दिए। उनके इसी रवैये से पीएम मोदी ने भी नाराजगी जताई थी।