बंगाल के भगवान हनुमान ने की खुदकुशी, बीजेपी के लिए किया था प्रचार

Whatsapp

नई दिल्‍लीः बीजेपी के स्‍टार प्रचारक निभास सरकार ने गुरुवार दोपहर को नादिया जिले के रानाघाट में आत्‍महत्‍या कर ली। 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए प्रचार करने के दौरान भगवान हनुमान के रूप में सामने आने वाले बंगाल के भगवान हनुमान ने की खुदकुशी कर ली। निभास सरकार राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता और जात्रा आर्टिस्‍ट भी थे। बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्‍यक्ष दिलीप घोष ने लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान ट्विटर पर रानाघाट में बीजेपी का प्रचार करते निभास की फोटो डाली थी, जिसके बाद वह सोशल मीडिया पर खासे लोकप्रिय हो गए थे।

बागुला के मंडल सभापति तपस घोष को निभास सरकार के भाई के जरिए उनकी मौत का पता चला। तपस घोष बताते हैं, ‘गुरुवार दोपहर को निभास घर पर बाथरूम गए थे। इसके कुछ मिनट बाद वह हाथ में एक शीशी लेकर निकले और अपने भाई प्रलब से कहा कि उन्‍होंने जहर खा लिया है। क्‍योंकि वह अपने जीवन से दुखी हो गए हैं।’ इसके बाद उन्‍हें कृष्‍णानगर स्थित अस्‍पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन रास्‍ते में ही उनकी मौत हो गई। घोष के अनुसार यह पारिवारिक मामला है। निभास के बेटे उदयपुर में डॉक्‍टर हैं।

बता दें कि निभास सरकार पश्चिम बंगाल के रानाघाट के रहने वाले थे, लेकिन अपने परिवार के साथ राजस्‍थान के उदयपुर में शिफ्ट हो गए थे। निभास के सुसाइड कर लेने के बाद सोशल मीडिया पर इस बात की चर्चा होने लगी कि उन्‍होंने एनआरसी के मामले पर सुसाइड किया है, लेकिन उनके भाई प्रलब ने साफ कहा है कि ऐसा कुछ नहीं है।