बल्लाकांड पर कैलाश बोले – आकाश और निगम कमिश्नर दोनों कच्चे खिलाड़ी

Whatsapp

इंदौर। नगर निगम अधिकारी की बल्ले से पिटाई के मामले में जेल जाने वाले विधायक आकाश विजयवर्गीय के पिता भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने सोमवार को खुलकर बयान दिया। उन्होंने कहा कि,” आकाश और निगमायुक्त दोनों ही कच्चे खिलाड़ी हैं। दोनों ने ही गलत ढंग से मामले को निपटाने की कोशिश की। अधिकारियों को अहंकारी नहीं होना चाहिए, उन्हें जनप्रतिनिधियों से बात करनी चाहिए। मैंने इसकी कमी देखी। ऐसा आगे नहीं हो, यह सुनिश्चित करना होगा। दोनों को समझना चाहिए।”

विजयवर्गीय ने कहा कि जो भी हुआ, वह दुर्भाग्यपूर्ण था। दोनों पक्षों ने गलत तरीके से काम किया। यह बड़ा मुद्दा नहीं था, लेकिन इसे बहुत बड़ा बना दिया गया। उन्होंने कहा कि वे महापौर, विधायक और मंत्री रहे हैं। बारिश में कभी मकान नहीं तोड़े जाते हैं। यदि किसी निर्माण को ध्वस्त किया भी जाता है तो रहने वालों लिए एक धर्मशाला में व्यवस्था की जाती है। निगम अफसरों ने गलत तरीके से काम किया। कार्रवाई के दौरान महिला कर्मी और महिला पुलिस वहां होनी चाहिए थी।

एक सवाल के जवाब में विजयवर्गीय ने कहा कि कमलनाथ सरकार बदले की भावना से काम कर रही है। सरकार को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए। पेंशन घोटाले की फाइल सरकार द्वारा खोजे जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सरकार की जो इच्छा हो, वह करे। विजयवर्गीय ने अपनी मां अयोध्या बाई की पुण्यतिथि पर परदेशीपुरा स्थित गेंदेश्वर मंदिर पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया। उनके साथ विधायक आकाश विजयवर्गीय ने भी सुंदरकांड का पाठ किया।