‘पटवारी अगर किसानों को परेशान ना करें, तो नेताओं को उनसे क्या शिकायत होगी’?

Whatsapp

भोपाल: कांग्रेस के फायर ब्रांड नेता जीतू पटवारी और वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के पटवारियों को भ्रष्ट बताने वाले बयान का विरोध लगातार हो रहा है। पटवारी संघ अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है और जीतू पटवारी का विरोध कर रहा है। लेकिन इसी बीच मंत्री जीतू पटवारी को कांग्रेस के ही एक दिग्गज नेता का साथ मिल गया है। जी हां कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने जीतू पटवारी का समर्थन किया है।

digvijaya singh

@digvijaya_28

पटवारी गण राजस्व विभाग के सबसे महत्वपूर्ण शासकीय सेवक हैं जिनका किसानों से सीधा संपर्क रहता है। यदि बिना मॉंगे वे किसानों का काम कर दें तो किसान तो वैसे ही पूरा सहयोग करते हैं और पारिवारिक रिश्ते पालते हैं। किसानों को परेशान नहीं करें तो नेताओं को उनसे क्या शिकायत होगी? https://twitter.com/yogendra_inc/status/1179672464856637440 

Yogendra Singh Parihar@Yogendra_INC

हमें क्या मालूम? किसानों और मीडिया ने 15 साल के शिवराज शासनकाल में यही बताया कि पटवारी रिश्वत लेकर काम कर रहे थे। अब यदि पटवारी ईमानदार हो गए हैं तो किसान भाइयों के लिए खुशी की बात है क्योंकि किसानों को सबसे पहले यदि किसी से जूझना पड़ता है तो वो पटवारी ही है…@digvijaya_28

View image on Twitter
45 people are talking about this
दिग्विजय सिंह ने ट्वीट के माध्यम से जीतू का समर्थन करते हुए लिखा है कि ‘पटवारी गण राजस्व विभाग के सबसे महत्वपूर्ण शासकीय सेवक हैं जिनका किसानों से सीधा संपर्क रहता है। यदि बिना मांगे वे किसानों का काम कर दें तो किसान तो वैसे ही पूरा सहयोग करते हैं और पारिवारिक रिश्ते पालते हैं। किसानों को परेशान नहीं करें तो नेताओं को उनसे क्या शिकायत होगी’?

दरअसल कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी ने आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के दौरान एक अफसर से कहा था कि आपके 100% भ्रष्ट हैं, हालांकि जीतू पटवारी ने ये कभी नहीं कहा कि मध्यप्रदेश के ही सारे पटवारी भ्रष्ट हैं, उन्होंने केवल एक ब्लॉक के ही पटवारियों को भ्रष्टाचार ना करने की नसीहत दी थी, बावजूद इसके पटवारी संघ जीतू पटवारी के बयान से खासा नाराज बताया जा रहा है, ऐसे मे सवाल उठता है कि क्या पटवारी संघ को किसी अन्य पार्टी द्वारा गुमराह तो नहीं किया जा रहा, क्योंकि पटवारी संघ का आरोप है कि जीतू पटवारी ने हमारा अपमान किया है, लेकिन सच तो ये है कि मंत्री जीतू पटवारी ने केवल एक ब्लॉक के ही पटवारियों को भ्रष्ट कहा था वो भी जनता की शिकायत के बाद।