भारी बारिश के बाद पानी में डूबी दिल्ली की सड़कें, यातयात जाम और उड़ानों पर भी पड़ा असर

Whatsapp

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गुरुवार को भारी बारिश हुई, जिसके बाद लोगों को जलजमाव और यातायात जाम का सामना करना पड़ा। यहां तक कि दिल्ली हवाइअड्डे पर कुछ समय के लिए विमानों की आवाजाही भी ठप रही। मौसम कार्यालय के अनुसार दिल्ली के कुछ क्षेत्रों में ओलावृष्टि भी हुई। भारतीय मौसम विभाग के क्षेत्रीय मौसम केंद्र ने बताया कि हरियाणा पर निम्न दबाव क्षेत्र बना हुआ था जिसके परिणामस्वरूप दिल्ली में बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार शाम पांच बजकर 30 मिनट पर अधिकतम तापमान 34.8 डिग्री सेल्सयस दर्ज किया गया जो कि सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक था। वहीं न्यूनतम तापमान 23.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक था।

भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला ने 35.2 मिलीमीटर और पालम वेधशाला में 20 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई। क्षेत्रीय मौसम विभाग ने ‘मध्यम’ बारिश बताया। बारिश लगभग दो घंटे हुई जिसके बाद शहर के कई स्थानों पर जलजमाव जैसी समस्या पैदा हो गई। वहीं तिलक ब्रिज, हयात होटल, भीकाजी कामा प्लेस, एमबी रोड सहित कई अन्य स्थानों पर यातायात जाम लग गया। दिल्ली हवाई अड्डे पर भारी बारिश और तेज हवाओं के चलते गुरुवार शाम को करीब 24 मिनट तक विमानों की आवाजाही ठप्प रही। उन्होंने बताया कि इस 24 मिनट में चार उड़ानों के मार्ग परिवर्तित किए गए।

विस्तार और स्पाइस जेट जैसी विमानन कंपनियों ने ट्विटर के जरिये यात्रियों को जानकारी दी कि खराब मौसम की वजह से दिल्ली हवाई अड्डे पर उनकी उड़ानें प्रभावित हो सकती हैं। वहीं केंद्र द्वारा संचालित ‘वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान तथा अनुसंधान प्रणाली’ (सफर) के अनुसार, ‘‘वायु गुणवत्ता में शुक्रवार को थोड़ी और गिरावट के बाद इसके मध्यम श्रेणी के बीच में पहुंचने का पूर्वानुमान है। 5 अक्तूबर तक हवा की दिशा में उत्तर पश्चिम की ओर बदलाव, पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में हवा की गति में मामूली बढ़ोतरी का पूर्वानुमान है।