बड़ी खबर : केंद्र सरकार ने प्याज के निर्यात पर लगाई रोक, बढ़ते दामों के बाद उठाया बड़ा कदम

Whatsapp

नई दिल्ली। प्याज की बढ़ते दामों पर लगाम लगाने के लिए केंद्र सरकार ने आज एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने प्याज की सभी किस्मों के निर्यात पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने प्याज की निर्यात नीति में संसोधन किया है। इसके बाद सरकार ने फैसला किया कि प्याज की सभी किस्मों के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है।

विदेश व्यापार महानिदेशक द्वारा आज जारी एक अधिसूचना में, आलोक वर्धन चतुर्वेदी ने प्याज की निर्यात नीति में संशोधन की घोषणा की। आईटीसी (एचएस) के वर्गीकरण 2 के अनुसूची 7 के अध्याय 7 के सीरियल नंबर 51 और 52 पर आइटम विवरण के लिए प्याज की निर्यात नीति निर्यात और आयात से मुक्त करने के लिए आगे के आदेशों के लिए निषिद्ध से संशोधित है।

बता दें, 26 सितंबर को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने राज्यों को केंद्र से प्याज खरीदने के लिए कहा था और कहा था कि उनकी आवश्यकताओं को तुरंत पूरा किया जाएगा।

देश में इनदिनों जनता प्याज के बढ़े हुए दामों से परेशान है। देश में प्याज की कीमतें काफी तेजी से बढ़ी हैं। लोद 80 से 90 रुपए प्रतिकिलो की दर से प्याज खरीदने को मजबूर हैं।

दिल्ली में सस्ते दाम पर मिल रहा प्याज

प्याज के दामों में हो रही बढ़ोतरी के बीच दिल्ली सरकार ने 23.90 रुपये प्रतिकिलो की दर से प्याज बेचने का निर्णय लिया है। शनिवार से राशन की 400 दुकानों व 70 मोबाइल वैन यानी पूरी दिल्ली में 470 स्थानों पर यह प्याज उपलब्ध होगा। यहां एक व्यक्ति एक बार में अधिकतम 5 किलो प्याज ही खरीद सकेगा। प्याज बेचने का काम सुबह दस से शाम पांच बजे तक होगा। इसके लिए किसी भी पहचान पत्र की जरूरत नहीं होगी। दिल्ली सचिवालय में शनिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मोबाइल वैन को हरी झंडी दिखाकर योजना का शुभारंभ करेंगे।