भोपाल को मिला मेट्रो का तोहफा, CM कमलनाथ ने किया शिलान्यास

Whatsapp

भोपाल: सीएम कमलनाथ ने आज भोपाल मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास किया। मप्र की राजधानी भोपाल में जल्द मेट्रो ट्रेन दौड़ने वाली है। नाथ ने भोपाल मेट्रो रेल परियोजना के शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भोपाल मेट्रो का नाम “भोज मेट्रो” करने की घोषणा की। कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, मंत्री पीसी शर्मा, गोविंद सिंह, आरिफ अकील और जयवर्धन सिंह और पूर्व सांसद पीसी शर्मा मौजूद हैं। भोपाल मेट्रो के 27 किमी के दो कॉरिडोर होंगे और यह काम दो चरण में होगा। करीब 6 हजार 941 करोड़ की लागत से भोपाल में मेट्रो प्रोजेक्ट का काम शुरु होने वाला है। जिसे 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

शिलान्यास से पहले 11 पंडितों ने मुख्यमंत्री से भूमि पूजन कराया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने पट्टिका का अनावरण किया। बताया जा रहा है राजधानी में चलने वाली मेट्राे रेल जयपुर की मेट्राे रेल जैसी ही हाेगी, लेकिन वहां 6 कोच की मेट्राे चलती है, यहां तीन की मेट्रो चलेगी। शुरुआत भले तीन काेच की ट्रेन से हाेगी, लेकिन यात्रियाें की संख्या बढ़ने पर काेच में इजाफा किया जाएगा। वहीं यात्रियाें काे स्टेशन पर ज्यादा इंतजार नहीं करना हाेगा, उन्हें हर पांच मिनट में स्टेशन से मेट्राे रेल मिलेगी।  हर स्टेशन पर ट्रेन 30 सेकंड ही रुकेगी।  पहला भाग दिसम्बर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य है।

दरअसल, भोपाल मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में 27.87 किलोमीटर में 2 कॉरीडोर बनेंगे। एक कॉरीडोर करोंद सर्कल से एम्स तक 14.94 किलोमीटर और दूसरा भदभदा चौराहा से रत्नागिरि चौराहा तक 12.88 किलोमीटर का होगा। इसकी कुल लागत 6941 करोड़ 40 लाख होगी। प्रोजेक्ट में एलीवेटेड सेक्शन 26.08 किलोमीटर का होगा। इसमें कुल 28 सब स्टेशन बनेंगे। अंडर ग्राउण्ड सेक्शन 1.79 किलोमीटर का होगा, जिसमें 2 स्टेशन बनेंगे। पहला रुट दिसम्बर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य है।