सीएम उम्मीदवार पर बोले रमन, आज बताना मुश्किल कि कौन होगा चेहरा

Whatsapp

रायपुर: बस्तर में शुरू हो रहे भाजपा के चिंतन शिविर से पहले पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मीडिया से चर्चा में कहा कि आज यह तय कर पाना बेहद मुश्किल है कि चेहरा कौन होगा? मूल विषय यही है कि दो दिनों तक हम अपनी कार्ययोजना पर चर्चा करेंगे। चिंतन शिविर में भाजपा और संघ के प्रमुख 55 नेताओं को आमंत्रित किया गया है। इस पर रमन ने कहा कि संगठन के लिए सभी महत्वपूर्ण है। चिंतन शिविर के लिए कुछ पैरामीटर तय किया गया होगा।

चिंतन शिविर के जरिए भाजपा शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म स्ट्रेटजी तैयार करेगी। आने वाले तीन और छह महीना की स्ट्रेटजी के साथ ढाई साल की रणनीति को लेकर चर्चा की जाएगी। मुख्य एजेंडा यही होगा कि 2023 के चुनाव में भाजपा की रणनीति कैसी होगी ? कांग्रेस सरकार की असफलता को लेकर जनता के बीच कैसे जाएंगे। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की गुटबाजी और मुख्यमंत्री पद को लेकर चल रहे संघर्ष पर रमन ने निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ का राजनीतिक मौसम बदल रहा है। सरकार के भीतर खुलेआम अब नारे लग रहे हैं। कांग्रेस पूरी तरह से विभाजित दिख रही है। इसका परिणाम क्या होगी, यह भविष्य बताएगा। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि हर पांच साल में हम चिंतन शिविर का आयोजन करते हैं। आने वाले समय की कार्ययोजना बनेगी। प्रदेश में नक्सलवाद के बढ़ने, मतांतरण, सरकार के खिलाफ बढ़ते आंदोलन, भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों पर चर्चा कर रोडमैप तैयार किया जाएगा। इस बैठक के माध्यम से भाजपा संगठन को मजबूत किया जाएगा। व्यापक कार्ययोजना इस बैठक में तैयार होगी।

भाजपा की सरकार बनाने का खोजेंगे रास्ता: विष्णुदेव

चिंतन शिविर में भाजपा की प्रदेश में सरकार बनाने का रास्ता खोजा जाएगा। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि 2023 में राज्य में भाजपा की सरकार कैसे बनेगी, इस पर विस्तार से मंथन किया जाएगा। राज्य सरकार किसानों, आदिवासियों जैसे तमाम मोर्चों पर फेल है। लोग समझ गए हैं कि सरकार ने केवल वोट बैंक के लिए उनका इस्तेमाल किया है। अब इन मुद्दों को लेकर जनता के बीच पहुंचने की रणनीति बनाई जाएगी।