सीएम शिवराज ने किया आगर, शाजापुर, नीमच सौर पार्क को लेटर आफ अवार्ड का वितरण

Whatsapp

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को भोपाल के मिंटो हाल में 1500 मेगावाट क्षमता के आगर, शाजापुर, नीमच सौर पार्क को लेटर आफ अवार्ड का वितरण किया। सीएम शिवराज ने कहा कि मध्य प्रदेश में आज मैं एक दूसरे संकट का सामना मैं कर रहा हूं। वह है सूखे का संकट। हमारे 17 जिले कम वर्षा के कारण सूखे से प्रभावित हैं। हालत यह है कि सूखा घोषित करूं या नहीं। एक तरफ बाढ़, दूसरी तरफ सूखा। प्रकृति का जो शोषण हमने किया है, उसके दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं। कार्बन गैसों का उत्सर्जन रोकने के प्रयास हमें बड़े प्रभावी ढंग से करने होंगे। मैं रोज एक पेड़ लगाते हैं और पेड़ लगाना भी भगवान की पूजा माना जाता है। क्योंकि वह जीवित आक्सीजन प्लांट है। सीएम ने कहा कि बिजली आज की जरूरत है। लेकिन थर्मल पावर प्लांट्स कार्बन गैसों का उत्सर्जन करते हैं। कोल माइंस ओपन करने के लिए पेड़ काटे जाते हैं। कोयला भी सीमित है। इसका सबसे आदर्श तरीका है सूरज से बिजली लेना। यह अक्षय ऊर्जा है, जो कभी खत्म नहीं होगी।

मध्य प्रदेश ऐसा राज्य है, जिसने एशिया का सबसे बड़ा 135 वाट का सोलर प्लांट नीमच में लगाया। इसके बाद रीवा का सोलर प्लांट देखो। आदर्श सोलर प्लांट। दिल्ली में मेट्रो रेल मध्य प्रदेश की बिजली से चल रही है। रीवा सोलर प्लांट से जा रही है। मध्य प्रदेश निवेश के लिए सर्वथा उपयुक्त है। सोलर एनर्जी के लिए तो इसलिए कि 300 दिन यहां सूरज चमकता है। जमीन की हमारे पास कमी नहीं है। हम धरती के साथ पानी पर भी सोलर पैनल बिछाएंगे। ओंकारेश्वर में हम फ्लोटिंग सोलर प्लांट लगा रहे हैं।