लखनऊ को बड़े तोहफे देने वाले राजनाथ सिंह को अखर गया होर्डिंग्स में अटल जी की फोटो का ना होना

Whatsapp

लखनऊ। नरेन्द्र मोदी सरकार में रक्षा मंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने मंगलवार को लखनऊ को हजारों करोड़ का तोहफा देने के साथ ही गलतियों को भी इंगित किया। राजनाथ सिंह ने चौक के ज्योतिबा फुले पार्क में आयोजित समारोह में मंच से आज के कार्यक्रम के लिए तैयार होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स से पूर्व पीएम भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की फोटो ना लगी होने पर बड़ा सवाल खड़ा किया।

केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज लखनऊ के अपने कार्यक्रम में लगी होॄडग और सभा स्थल के बैक ड्राप से पूर्व पीएम अटल जी के चित्र नदारद होने पर हैरानी प्रकट करते हुए कहा कि ऐसा नही होना चाहिये था। रक्षा मंत्री ने कहा कि बिना अटल के हम लखनऊ की कल्पना नही कर सकते। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आज लखनऊ में भाषण देने नहीं आया हूं, लेकिन नये लखनऊ को देखने जरूर आया हूं

लखनऊ में मंगलवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में बड़ी कमी को उगाजर कर दिया। उन्होंने होर्डिंग्स तथा पोस्टर्स में भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की फोटो गायब होने पर कहा कि यह तो ठीक नहीं है। ऐसा नहीं होना चाहिए था। उन्होंने कहा कि मैं जब एयरपोर्ट से चला तो मैने बहुत सी होॄडग देखी, लेकिन लखनऊ में सभी में अटल जी का चित्र गायब मिला। हम सब कई लोगों के चित्र लगे हैं, लेकिन अटल जी का एक भी चित्र नहीं है। इतना ही नहीं यहां मंच पर भी लगे होर्डिंग में अटल जी का चित्र नहीं है। उनका चित्र जरूर लगा होना चाहिए। बिना अटल जी के हम तो लखनऊ की कल्पना भी नहीं कर सकते

उन्होंने कहा कि जब मैं पिछली बार भी किसी शिलान्यास या लोकार्पण में आया था, तब भी ऐसा ही था। उस समय में यह इंगित कराना चाहता था, लेकिन समारोह में ऐसा उलझा भी कहना भूल गया। उन्होंने कहा कि लखनऊ संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी कर चुके हैं। उनका नाम तथा स्थान हम सभी से ऊपर है। राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर लखनऊ में किसी समारोह में आप लोग होर्डिंग लगाते हैं तो जब हमारे या अन्य नेताओं के फोटो लगाने हों या ना भी लगाने हो, लेकिन अटल जी की फोटो सभी से ऊपर जरूर लगाएं। अब से लखनऊ में एक भी होर्डिंग या पोस्टर ऐसा ना हो जिसमें अटल जी की फोटो ना लगी है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि अटल जी सिर्फ भारत ही नहीं विश्व भर में सर्वमान्य तथा लोकप्रिय नेता हैं। बतौर रक्षा मंत्री मैं जब भी किसी देश में जाता हूं तो वहां के नेतागण तथा संभ्रात लोग अटल जी के बारे में जरूर पूछते हैं। उनकी चर्चा जरूर होती है। इसी कारण लखनऊ में अगर किसी भी पोस्टर या होर्डिंग में उनकी फोटो नहीं लगेगी तो मुझे तो बहुत खराब लगेगा।

गौरतलब है कि लखनऊ में मंगलवार को लगे हजारों होर्डिंग्स व पोस्टर्स में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा के फोटो लगे थे

डॉ. दिनेश शर्मा को नहीं दिखी कमी

उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने भले ही अपने संबोधन में कहा कि राजनाथ जी और हम सब मिलकर अटल जी के लखनऊ को आगे बढ़ते देख रहे है। अटल जी ने जो विकास का सपना देखा था आज वह पूरा हो रहा है। डॉ. दिनेश शर्मा ने भले ही संबोधन में अटल जी का नाम लिया, लेकिन उनको भी होर्डिंग्स व पोस्टर्स में अटल जी की फोटो की कमी नहीं खली।

डॉ. दिनेश शर्मा की फोटो के नीचे गलत नाम

समारोह में कई जगह पर उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा की फोटो के नीचे लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया का नाम लिखा था। इतने बड़े समारोह में इस तरह की गलती पर लोग सरकार की हंसी उड़ा रहे थे।