हनी ट्रैप मामले के लिए शिवराज हैं जिम्मेदार- कंप्यूटर बाबा

Whatsapp

जबलपुर: हाईप्रोफाइल हनी ट्रैप मामले को लेकर कंप्यूटर बाबा ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को जिम्मेदार ठहराया है। कंप्यूटर बाबा ने कहा ये मामला उनके कार्यकाल में हुआ, इसलिए शिवराज ही जिम्मेदार हैं। बाबा के आरोपों के बाद सियासत भी तेज हो गई है। बाबा ने बताया कि उन्होंने रेत का अवैध उत्खनन रोकने के लिए ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया है।

शिवराज की सरकार में फला फूला हनी ट्रैप का खेल
बाबा ने कहा कि पिछले 10 से 15 सालों में ही हनी ट्रैप का खेल फला फूला है। उन्होंने कहा कि ये वही समय था जब मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की सरकार थी। इसलिए पूरे मामले के असल जिम्मेदार शिवराज हैं। उन्होंने कहा कि हनीट्रैप मामले में मुख्यमंत्री कमलनाथ ही उचित फैसला करेंगे। जो भी दोषी होगा उसे बख्शा नही जाएगा। इससे पहले बाबा ने अपने पिछले बयान में हनी ट्रैप मामले में शामिल सभी लोगों के नाम सार्वजनिक करने की मांग की थी। साथ ही कहा था कि इस मामले में कई निर्दोष लोगों को भी फंसाया गया है, इसलिए मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

अवैध खनन रोकने के लिए ब्लू प्रिंट तैयार
मंदाकिनी न्यास के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा ने कहा कि रेत खनन रोकने के लिए कमलनाथ सरकार ने नई नीति तैयार कर ली है। इस नीति से अवैध खनन पर लगाम लगेगा। उन्होंने कहा कि राज्य में रेत खनन रोकने के लिए ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया है। बाबा ने रेत खनन करने वाले अपराधियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई करने की वकालत की। उन्होंने कहा कि करीब 250 संतों की मंडली नर्मदा नदी के घाट के किनारे अवैध खनन स्थानों पर भजन कीर्तन करेगी इस दौरान अगर अवैध खनन होता दिखा तो उसे भी रोकेगी।