अस्पताल प्रबंधन ने कहा-दाे लाख का भुगतान कराे, फिर देंगे शव, स्वजनाें ने किया हंगामा

Whatsapp

ग्वालियर। पड़ाव स्थित केएम अस्पताल में युवती की मौत को लेकर स्वजनों ने हंगामा कर दिया। हालांकि बाद में बिना पुलिस में शिकायत किए स्वजन शव लेकर चले गए। टीकमगढ़ की एक युवती को उपचार के लिए स्वजनों ने केएम अस्पताल में भर्ती किया था। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मौत के बाद अस्पताल प्रबंधन ने स्वजनों को यह कहते हुए शव सुपुर्द करने से इनकार कर दिया कि उपचार में दो लाख का खर्च आया, जब तक उसका भुगतान नहीं किया जाता तब तक शव नहीं दिया जाएगा। इस बात को लेकर स्वजनों ने हंगामा कर दिया। हंगामा देख अस्पताल प्रबंधन स्वजनों को बिना भुगतान दिए शव देने के लिए राजी हो गया, लेकिन शव सुपुर्द करने से पहले स्वजन से शपथ पत्र लिया। जिसमें इलाज पर हुए खर्च की रकम बाद में लेने की बात लिखवाई गई। हालांकि अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि मृतका के स्वजनों की आर्थिक स्थति को देखते हुए बिना भुगतान कराए ही शव सुपुर्द कर दिया और बिना किसी विवाद के वह शव लेकर चले गए

किशोरी के साथ छेड़छाड़ः संजय नगर टंकी चौराहे के पास (जनकगंज) 16 साल की किशोरी का रास्ता रोककर धर्मेंद्र जाटव ने छेड़छाड़ कर दी। किशोरी के छेड़छाड़ का प्रतिरोध करने पर आरोपित जान से मारने की धमकी देकर मौके से भाग गया। छेड़छाड़ की घटना 28 अगस्त की है। किशोरी ने आरोपित के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला रविवार की रात को दर्ज कराया है। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है।