मध्य प्रदेश में बिजली कटौती पर अब भाजपा विधायक राकेश गिरी ने लिखा सीएम को पत्र

Whatsapp

भोपाल। भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी के बाद अब टीकमगढ़ से भाजपा विधायक राकेश गिरी ने अघोषित बिजली कटौती का मुद्दा उठाया है। टीकमगढ़ विधायक राकेश गिरी ने इस मामले में सीएम शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर कहा है कि 12 से 15 घंटे अघोषित बिजली कटौती हो रही है। इस वजह से किसान फसलों की सिंचाई नहीं कर पा रहे हैं। बिजली कटौती से जनता में काफी रोष है, विधायक गिरी ने अघोषित बिजली कटौती बंद करने की की मांग की है।

विधायक नारायण त्रिपाठी बोले, बिजली कटौती से होगा भाजपा को नुकसान

मध्य प्रदेश में बिजली कटौती को लेकर भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा कि अधिकारी झूठी जानकारी दे रहे हैं। इस मुद्दे पर भाजपा को बड़ा नुकसान होगा। मीडिया से चर्चा में त्रिपाठी ने कहा कि समूचे विंध्य क्षेत्र में बिजली कटौती को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। किसान, व्यापारी, आम आदमी को बिजली नहीं मिल रही है। मुख्यमंत्री और ऊर्जा मंत्री को इस मामले को स्वयं देखना चाहिए। बिजली विभाग पर कड़ाई जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस मामले में वे मुख्यमंत्री और मंत्री से बात भी करेंगे। चार सितंबर से विंध्य क्षेत्र में बिजली कटौती को लेकर बड़ा आंदोलन किया जाएगा। बिजली की अघोषित कटौती पर कांग्रेस भी करेगी आंदोलन प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी ने कहा कि अघोषित बिजली कटौती से बच्चों की पढ़ाई के साथ काम-धंधे भी प्रभावित हो रहे हैं। यदि स्थिति में जल्द सुधार नहीं होता है तो कांग्रेस आंदोलन करेगी। उनका कहना था कि सरकार दावा करती है कि 21 हजार मेगावाट बिजली उपलब्ध है, तो फिर लगातार अघोषित कटौती क्यों हो रही है।

कमल नाथ ने साधा निशाना

पूर्व सीएम कमल नाथ ने ट्वीट कर लिखा, मध्य प्रदेश में बिजली का संकट दिन- प्रतिदिन गहराता जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों व कृषि क्षेत्रों में स्थिति बेहद खराब होती जा रही है, कई-कई घंटों की अघोषित कटौती की जा रही है। कोयले की कमी के कारण उत्पादन भी प्रभावित हो रहा है, कई ताप विद्युत परियोजनाएं बंद होने की कगार पर है। मांग और आपूर्ति में बड़ा अंतर सामने आ रहा है, सरकार इन सब मामलों से बेखबर बनी हुई है? हमारी सरकार के समय हमने प्रदेश में कभी बिजली संकट की स्थिति सामने नहीं आने दी और सस्ते दर पर उपभोक्ताओं को बिजली भी उपलब्ध कराई। वहीं आज शिवराज सरकार में जनता बिजली संकट और मनमाने बिजली बिलों से भारी परेशान हैं। मैं सरकार से मांग करता हूं कि प्रदेश की जनता को इस बिजली संकट व मनमाने बिजली बिलों से मुक्ति दिलाएं अन्यथा कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी, इस मुद्दे पर हम प्रदेश व्यापी आंदोलन करेंगे।