प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में जिले के 310 हितग्राहियों को मिला 36.30 लाख रूपये का लाभ

Whatsapp
नरसिंहपुर-राष्ट्र चंडिका, मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने बालाघाट से रविवार को प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के प्रदेश के 406 नगरीय निकायों के 50 हजार पथ विक्रेता हितग्राहियों को सिंगल क्लिक से 50 करोड़ रूपये का वितरण उनके खातों में किया। उन्होंने द्वितीय चरण में 20 हजार रूपये के ऋण वितरण कार्य का शुभारंभ भी किया। पहले चरण के प्रत्येक हितग्राही को ब्याज मुक्त 10 हजार रूपये एवं दूसरे चरण के प्रत्येक हितग्राही को 20 हजार रूपये का ऋण वितरित किया। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के हितग्राहियों से संवाद भी किया। जिला मुख्यालय पर इस कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जवलित कर नगर पालिका परिसर में किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री द्वारा जिले के 310 हितग्राहियों को 36 लाख 30 हजार रूपये का वितरण उनके खातों में किया गया। इनमें से 257 हितग्राहियों को 10 हजार रूपये के मान से एवं 53 हितग्राहियों को 20 हजार रूपये के मान से राशि वितरित की गई। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का सीधा प्रसारण जिले के सभी 8 नगरीय निकायों में किया गया, जिसे जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, हितग्राहियों और नागरिकों ने देखा व सुना।

कार्यक्रम के दौरान जिले के नगरीय निकाय नरसिंहपुर के 44, गाडरवारा के 5, करेली के 76, गोटेगांव के 12, तेंदूखेड़ा के 98, चीचली के 5, सांईखेड़ा के 35 एवं सालीचौका के 35 हितग्राहियों को कुल 36 लाख 30 हजार रूपये वितरित किये गये। इनमें से जिले के 8 नगरीय निकायों में 257 हितग्राहियों को 10 हजार रूपये के मान से 25 लाख 70 हजार रूपये और 53 हितग्राहियों को 20 हजार रूपये के मान से 10 लाख 60 हजार रूपये का ब्याज मुक्त ऋण प्रदाय किया गया।
कार्यक्रम में कलेक्टर श्री वेद प्रकाश, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष  महंत प्रीतमपुरी गोस्वामी व उपाध्यक्ष  दीपक दुबे, डॉ. अनंत दुबे,  विनीत नेमा, मनमोहन बंटी सलूजा,  मनीष ठाकुर,  भगवानदास राय,  सुदर्शन वैद्य, प्रमेश शंकर शर्मा, अमितेन्द्र नारौलिया एवं अजय प्रताप सिंह की मौजूदगी में प्रतीक स्वरूप 6 हितग्राहियों  सोनू मेहरा,  शैलेन्द्र साहू,  गजराज सिंह लोधी, राजेश कतिया, नर्मदा प्रसाद चौधरी व रूपेश मेहरा को चैक वितरित किये गये। कार्यक्रम में राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत प्रशिक्षुओं को प्रमाण पत्र भी वितरित किये गये।
कार्यक्रम में अतिथियों ने अपने- अपने विचार प्रकट किये। उन्होंने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार समाज के हर वर्ग को लाभांवित करने के लिए लगातार कार्य कर रही है। योजनाओं का लाभ मिलने से आमजनता का विश्वास बढ़ता है। शासकीय योजनाओं का लाभ अधिकाधिक पात्र व्यक्तियों को उपलब्ध कराने पर जोर दिया। सबसे पीछे एवं नीचे तक के व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ दिलाने की बात कही गई।