बागपत: दुष्कर्म पीड़ित किशोरी की मां ने SP दफ्तर के बाहर किया आत्मदाह का प्रयास

Whatsapp

बागपत: बागपत जिले में शनिवार को एक महिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर अपने ऊपर केरोसिन तेल छिड़ककर आत्मदाह करने का प्रयास किया। हालांकि, समय रहते मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी ने महिला के हाथ से मिट्टी के तेल की बोतल छीन ली और उसे कोई नुकसान नहीं हुआ। अधिकारियों ने महिला की बात सुनकर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन ने बताया कि शिकायत के मुताबिक बिनौली थाना क्षेत्र के एक गांव में विशेष समुदाय की 14 वर्षीय किशोरी के साथ नौ अगस्त को गांव के ही अनुसूचित जाति के एक युवक ने घर में घुसकर कथित दुष्कर्म किया था और मुंह खोलने पर किशोरी को जान से मारने की धमकी दी थी। उन्होंने बताया कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने ‌25 अगस्त को आरोपित युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। दूसरी तरफ आरोपित युवक के परिजनों ने किशोरी के स्वजनों पर गाली-गलौज व जाति सूचक शब्द का प्रयोग करने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ शुक्रवार को अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराया था।

एसपी ने बताया कि शनिवार की दोपहर पुलिस कार्यालय के बाहर आकर किशोरी की मां ने अपने ऊपर बोतल से केरोसिन का तेल छिड़कर कर आत्महत्या का प्रयास किया,जिसे पुलिस ने विफल कर दिया। जादौन ने बताया कि प्रथम दृष्टया प्रतीत होता है कि महिला द्वारा आत्महत्या का प्रयास एससी/एसटी एक्ट मुकदमें को प्रभावित करने के उद्देश्य से किया गया है। उन्होंने पूरे प्रकरण की जांच क्षेत्राधिकारी अपराध को सौंप कर उनसे तत्काल आख्या प्रस्तुत करने् के निर्देश दिए हैं।