चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के चुनाव स्थगित होने से उम्मीदवारों ने जताई नाराजगी

Whatsapp

भोपाल। राजधानी में 29 अगस्त रविवार को भोपाल चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के चुनाव होने थे, जिसे गुरुवार को जिला प्रशासन ने स्थगित कर दिया। इससे अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महामंत्री, मंत्री, कोषाध्यक्ष सहित नौ पदाधिकारियों के 15 कार्यकारिणी के पदों पर दावेदारी जता रहे 55 उम्मीदवारों में नाराजगी है। प्रगतिशील पैनल से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार तेजकुल पाल सिंह पाली, महामंत्री पद के उम्मीदवार रामबाबू शर्मा सहित अन्य उम्मीदवारों ने कलेक्टर अविनाश लवानिया से मुलाकात कर चुनाव स्थगित होने पर रोष व्यक्त किया। अध्यक्ष पद के उम्मीदवार तेजकुल पाल सिंह पाली ने बताया कि कलेक्टर लवानिया के सामने बात रखी गई है। अब तक चुनाव प्रचार में खर्च हुए रुपये और प्रचार-प्रसार करने के लिए बाजारों में जाकर की गई मेहनत के बारे में बताया। कलेक्टर ने 31 तक चुनाव कराने का आश्वासन दिया है। वहीं सद्भावना पैनल से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार आलेक जैन पंचरत्न ने जिला कलेक्टर अविनाश लवानिया के नाम से कलेक्ट्रेट में ज्ञापन सौंपा है। कलेक्टर से स्थगित किए गए चुनावों को फिर से कराने की मांग की है। साथ ही कोरोना गाइडलाइन का पालन करने का हवाला दिया है। सद्भावना पैनल से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार आलोक जैन पंचरत्न ने बताया कि बीते 15 दिनों से चुनाव में प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। बैनर, पंफ्लेट छपवा लिए। व्यापारियों के पास जाकर इतनी मेहनत कर रहे हैं। अचानक चुनाव स्थगित करने से झटका लगा है। वहीं परिवर्तन पैनल से महामंत्री पद के उम्मीदवार आदित्य जैन मान्यां ने बताया चुनाव अधिकारी ने 29 अगस्त को चुनाव कराने की घोषणा की तब कोरोना का नियमों का पालन करते हुए चुनाव कराने की अनुमति क्यों नहीं ली गई। इसमें चुनाव अधिकारी भी थोड़ी गलती है। अब जब प्रत्याशी मैदान में उतर कर पूरी ताकत चुनाव प्रचार में झोंक चुके हैं तब तब जाकर एसडीएम ने चुनाव स्थगित क्यों कर दिए। यह सबसे बड़ा सवाल है।