अपनों से जान बचाकर SP ऑफिस पहुंचे पति-पत्नी ! कहा- हमारी जान को खतरा है हमें बचा लीजिए

Whatsapp

छतरपुर: छतरपुर में SP कार्यालय के बाहर बिलखते दलित दंपति को उनके परिजनों ने इतनी बेरहमी से पीटा कि लहूलुहान हालत में उन्हें एस की शरण लेनी पड़ी। दोनों पति पत्नी घायल अवस्था में ही अपनों से जान बचाकर गुहार लगाने SP कार्यालय पहुंचे हैं।

जानकारी के मुताबिक आवेदक सोनू अहिरवार पिता आयोजन अहिरवार उम्र 21 वर्ष निवासी पुतरीखैरा थाना भगवा ने बताया कि उसे उसके परिजनों भगुनता पिता अर्जना अहिरवार, रूपचंद अहिरवार पिता भगुनता अहिरवार, भूरी पत्नी भगुनता अहिरवार, चंद्रभान, सुरेंद्र पिता अर्चना अहिरवार निवासी पुतरीखेरा ने बुरी तरह पीटा है और हमारे माता-पिता को भी गंदी गंदी गालियां दीं।

सोनू ने बताया कि- मुझे और मेरी पत्नी के साथ जमकर मारपीट करते हुए घर के अंदर घुसा कर और कुल्हाड़ी लाठी-डंडों, पत्थर से बुरी तरह लहूलुहान कर जान से मारने का प्रयास किया। जिसकी रिपोर्ट हमने भगवा थानों में की थी, लेकिन आरोपियों के ऊपर साधारण धारा लगाकर छोड़ दिया गया और अब वह पुलिस रिपोर्ट के बाद हमारी जान के दुश्मन बन हुए हैं।

घायल हरिराम अहिरवार ने बताया कि वह दिल्ली में काम कर रहा था । तभी वहां के ठेकेदार ने आकर बताया कि तुम्हारा भतीजा हमारे यहां से 5 हजार रुपए चोरी करके ले गया उसे ढूंढकर लाओ। इसी बात को लेकर जब मैं अपने गांव गया और मैंने अपने बड़े भाई से यह बात कही कि भतीजा चोरी करके आया है तो वे उल्टा मुझपर बरस पड़े और मेरी पत्नी व मेरे साथ जमकर मारपीट की। साथ ही जान से मारने की धमकी दी है। जहां मैं अपनी जान बचाता फिर रहा हूं और अब एसपी कार्यालय में आकर आवेदन दिया है और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।