हजारों लीटर महुआ लहान नष्ट की, आरोपित गिरफ्तार

Whatsapp

निंबोला। निंबोला थाना पुलिस ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया। पुलिस की टीम ने डीएसपी रोहित राठौर के निर्देशन में निंबोला के समीप कार्रवाई करते

हुए तीन हजार लीटर महुआ लहान और 120 लीटर हाथ भट्टी शराब जब्त कर नष्ट की। इस दौरान टीम में आरक्षक संदीप कैथवास, चंद्रकांत महाजन, सचिन जाधव, सुजीत यादव, सतीश सूर्यवंशी, रोहित यादव सहित अन्य शामिल रहे।

पुलिस के अनुसार ग्राम नसीराबाद के चमारिया टांडा के जंगल में महुए से निर्मित अवैध शराब का निर्माण किए जाने की सूचना पुलिस को मिली थी। टीम पहुंची तो दूर से ही धुंआ नजर आया जो जल रही भट्टियों का था। भट्टी के आसपास आठ कुप्पियां रखी थी। पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपितों सुनील उर्फ कालु पिता नारसिंग चौहान, किषन उर्फ लड्डु पिता मालसिंग देवरे दोनों निवासी चमारिया टांडा को पकड़कर उनके कब्जे से आठ कैन में रखी 120 लीटर कच्ची महुआ शराब जब्त की। पूछताछ पर पता चला कि झाड़ियों में भी कोठियों के अंदर शराब रखी है। पुलिस ने जांच की तो वहां 9 बड़ी कोठी, एक छोटी कोठी तथा 20 छोटी कुप्पियों में महुआ लहान भरा हुआ था। इसमें करीब 2200 लीटर लहान मिली। पुलिस ने कुल तीन हजार महुआ लहान नष्ट की।

गश्त कर रही टीम को देख सामान छोड़कर भागे अतिक्रामक

नेपानगर। एक बार फिर घाघरला क्षेत्र में अतिक्रमणकारियों की सक्रिय होने की सूचनाएं वन विभाग को मिल रही है। जिसके बाद क्षेत्र में पैदल गश्त शुरू कर दी गई है। वन अफसर, कर्मचारी जंगल में नियमित रूप से पैदल गश्त कर रहे हैं। बुधवार को वन विभाग की सूचना मिली कि घाघरला के जंगल में अतिक्रमकारी घुसे हैं। इसके बाद टीम मौके पर पहुंची तो गश्त कर रहे कर्मचारियों को देखकर अतिक्रमणकारी सामान छोड़कर भाग गए।

यहां चूल्हा और आसपास कुछ चावल पड़े नजर आए। रेंजर विमला मुवेल ने कहा कि अतिक्रमणकारियों ने यहां चावल बनाकर खाए थे। दोबारा वन क्षेत्र में अतिक्रमण न पसरे इसे लेकर प्रतिदिन गश्त की जा रही है। गौरतलब है कि घाघरला के जंगल को जिला प्रषासन के प्रयासों से बड़ी मुष्किल से अतिक्रमणकारियों से मुक्त कराया गया था।