बिजली कंपनी की मनमानी से उपभोक्ता परेशान, बिना सूचना के काट रहे कनेक्शन

Whatsapp

मनासा। बिजली कंपनी की मनमानी के चलते उपभोक्ताओं में बिजली कर्मचारियों के खिलाफ गुस्सा है। एक तरफ जहां बिजली के बढ़ते दामों से उपभोक्ता परेशान हैं और अधिक कीमतों के बिजली बिल उपभोक्ताओं को दिए जा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर बिजली कंपनियों की मनमानी के चलते एक माह का बिल बाकी होने पर भी उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे जा रहे हैं। यहां तक कि उपभोक्ताओं को कनेक्शन काटे जाने संबंधी कोई सूचना भी नहीं दी जा रही है। साथ ही कनेक्शन विच्छेद करने और पुनः जोड़ें जाने पर 200 रुपये का अतिरिक्त शुल्क वसूला जा रहा है। एक तरफ जहां कई सरकारी विभागों एवं कार्यालयों के बिजली कंपनी के लाखों बकाया है, वहीं दूसरी ओर एक आम उपभोक्ता का एक माह का बिल बाकी होने पर भी उसका कनेक्शन काटा जा रहा है, जिससे उपभोक्ताओं में बिजली कंपनियों की मनमानी के चलते गुस्से का माहौल है। विद्युत विभाग के कनिष्ठ यंत्री डीके मालवीय ने बताया कि बिल जमा ना होने की स्थिति में कनेक्शन विच्छेद का कार्य बाहर से आई टीम द्वारा किया जाता है उन्हें उपभोक्ता को पूर्व सूचना दी जानी चाहिए व्यवस्था को सुधारने के निर्देश दिए गए हैं।

पैदल यात्रा संघ का स्वागत

जीरन। नगर के समीपस्थ ग्राम चीताखेड़ा से श्री नागेश्वर पार्श्वनाथ तक निकले पैदल यात्रा संघ का नगर में स्वागत किया गया। पैदल यात्रा संघ चीताखेड़ा से विहार कर 10 बजे नगर के नीम चौक मे पहुंचा। यहां पर पैदल यात्रियों का कासमा परिवार द्वारा स्वागत सम्मान कर संघ पूजा की गई। इस अवसर पर समाज के धीरज कासमा, मंगल मोगरा, शौकीन मोगरा, अंशुल कासमा व राकेश कासमा उपस्थित थे।

108 एंबुलेंस थाना मनासा में हुई प्रसूति

मनासा। आपातकालीन परिस्थितियों में दिन-रात लोगों की सेवा करने वाली 108 एंबुलेंस में प्रसूति हुई। समीप ग्राम खेड़ा कुशालपुरा निवासी 23 वर्षीय धरमु बाई पत्नी राहुल को प्रसव पीड़ा अधिक होने के कारण थाना 108 एम्बुलेंस को काल किया। एंबुलेंस गांव से महिला को लेकर चली तभी महागड़ और शेषपुर के बीच ही गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा अधिक होने लगी। इस पर एंबुलेंस स्टाफ ईएमटी सोनू सिंह चंद्रावत और पायलेट अनिल कुमार ने एंबुलेंस को एक साइड में रोक कर सूझबूझ के साथ प्रसूति करवाने का निर्णय लिया और महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया तथा जच्चा-बच्चा दोनों को स्वस्थ अवस्था में नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ केंद्र पर भर्ती करवाया।