सीआईएसएफ को मिली नई अतिरिक्त महानिदेशक, दबंग आईपीएस अफसर नीना सिंह को दी गई जिम्मेदारी

Whatsapp

1989 बैच की आईपीएस अधिकारी नीना सिंह को प्रतिनियुक्ति के आधार पर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) का अतिरिक्त महानिदेशक नियुक्त किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बताया कि नीना सिंह इस पद पर 31 जुलाई 2024 (उनकी सेवानिवृत्ति की तारीख) या अग्रिम आदेश तक (जो भी पहले आए) अपनी सेवाएं देंगी। नीना राजस्थान पुलिस में डीजी के पद पर काम रह चुकी हैं।

वर्ष 1989 बैच की आईपीएस अधिकारी नैना सिंह मूलतः बिहार के दरभंगा की रहने वाली हैं। 1989 में यूपीएससी एग्जाम पास करने के बाद उन्हें मणिपुर कैडर मिला था। शादी के बाद इन्हें राजस्थान कैडर मिला था। उन्होंने पटना विमेंस कॉलेज से उन्होंने अपना ग्रेजुएशन पूरा किया था। इसके बाद उन्होंने JNU से मास्टर्स किया था. इसके बाद एक और मास्टर्स डिग्री के लिए वो UK की हार्वर्ड यूनिवर्सिटी भी गई थीं।

राष्ट्रपति पुलिस पदक सहित कई सम्मान मिल चुके
राजस्थान पुलिस ने तेजतर्रार अफसर नीना सिंह को राष्ट्रपति पुलिस पदक सहित विशिष्ट सम्मान मिल चुके हैं। नीना सिंह अपनी उत्कृष्ट कार्यशैली के लिए राजस्थान और देश में हमेशा चर्चित रही है।

कई महत्वपूर्ण केस सुलझाए हैं नीना सिंह ने
आईपीएस नीना सिंह 6 वर्ष तक CBI में Joint Director के पद पर रहीं। इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण केसों की गुत्थी को सुलझाया। नीना सिंह ने CBI में रहते शीना बोरा हत्याकांड, जिया खान केस, JK क्रिकेट घोटाला, बॉम्बे ब्लास्ट केस, मायावती का NRHM भ्रष्टाचार आदि केसों को हल किया है।

महिलाओं के लिए भी किया महत्वपूर्ण काम
नीना सिंह महिलाओं के प्रति काफी संवेदनशील रही हैं। राजस्थान में राज्य महिला आयोग की सदस्य सचिव रहते हुए नीना सिंह ने महिलाओं के लिए कई सुरक्षा प्रणालियां बनाई। राजस्थान के महिला आयोग का प्रशासनिक ढांचा तैयार करने का श्रेय आईपीएस नीना सिंह को ही है।