सरकारी संपत्ति ‘किराए’ पर देगी सरकार, राहुल बोले- ईमान तो पहले ही बेच दिया अब देश पर नजर

Whatsapp

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना (National Monetization Scheme) को लेकर बुधवार को फिर मोदी सरकार पर कड़ा हमला किया और कहा कि राष्ट्रीय हितों के संरक्षण की बात करने वाली इस सरकार ने अब अपना ईमान भी बेच दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि यह सरकार अपना ईमान पहले ही बेच चुकी है और अब देश की संपत्ति को बेचने में जुट गई है।

राहुल ने ट्वीट किया कि सबसे पहले ईमान बेचा और अब” कांग्रेस नेता ने मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार पर देश की संपत्ति में निजी क्षेत्र को हिस्सेदार बनाने को लेकर तीखा हमला किया और कहा कि यह सरकार 70 साल में अर्जित देश की संपत्ति को अपने कुछ पूंजीपति मित्रों को बेचकर देश के भविष्य को अंधेरे में धकेल रही है।

कांग्रेस पार्टी ने भी अपने आधिकारिक हैंडल पर ट्वीट कर इस योजना को लेकर सरकार की आलोचना की और कहा कि राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना के नाम पर राष्ट्रीय मित्रिकरण योजना थोपी जा रही है, राष्ट्रीय संपत्ति को मित्रों के हवाले किया जा रहा है। मोदी सरकार की मित्रिकरण योजना राष्ट्र के लिए हानिकारक साबित होगी।