ओवैसी के खिलाफ MP के मंत्री ! एक ने दिखाई हैसियत-औकात तो दूसरे ने दी हस्तक्षेप न करने की सलाह

Whatsapp

भोपाल: इंदौर में चूड़ी बेचने वाले की पिटाई मामले में असदुद्दीन ओवैसी के ट्वीट के बाद मध्य प्रदेश के भाजपा नेता हमलावर हो गए। एक तरफ गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने उन्हें एमपी में ज्यादा हस्तक्षेप न करने की सलाह दे डाली तो दूसरी ओर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने ओवैसी को छोटा व तुच्छ नेता बताया। बता दें कि इंदौर चूड़ी बेचने वाले की पिटाई मामले में ओवैसी ने नरोत्तम मिश्रा की बयानबाजी पर सवाल खड़े करते हुए ट्वीट किया था और कहा था कि चुनी हुई सरकारों और उग्रवादी भीड़ में ज्यादा फर्क नहीं रहा है

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ओवैसी के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा कि ओवैसी को बताना चाहता हूं कि ऐसे लोग जो अपने दो-तीन पहचान पत्र रखते हैं, वह अपराधी हैं। 2 नाम बताते है वह भी अपराधी है। मारपीट करने वालों पर भी कार्यवाही की गई है। मेरी सलाह है कि ओवैसी एमपी में ज्यादा हस्तक्षेप ना करें, एमपी में कानून का राज है। किसी को वैमनस्य नहीं फैलाने दिया जाएगा। पीएफआई पर प्रतिबंध का मामला प्रक्रियाधीन है। मुझे कुछ ज्ञापन भी मिले हैं। इन आवेदन पर संज्ञान लिया है। पुलिस अग्सरों और कानून विशेषज्ञों से राय ले रहे हैं।

वहीं चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने इंदौर मामले पर ओवैसी की टिप्पणी पर कहा कि विघटन की राजनीति करने वाले देशद्रोही हैं ओवैसी, उनकी हैसियत और औकात नहीं है कि एमपी की जनता का मख़ौल उड़ाए। ओवैसी छोटे और तुच्छ नेता हैं, एक वर्ग को खुश करने का काम करते हैं। मध्यप्रदेश शांति का टापू है, तुष्टिकरण करने वाले लोग बवाल खड़ा करते हैं।

दरअसल इंदौर में चूड़ी वाले की पिटाई का वीडियो वायरल होने व इस मामले में कई गई कार्रवाई को लेकर ओवैसी ने एक के बाद एक ट्वीट किए। उन्होंने मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार पर निशाना साधा और कहा कि म.प्र के गृह मंत्री भी खुल के अपराधियों के लिए बहाने बना रहे है। चुनी हुई सरकारों और उग्रवादी भीड़ों में कोई फ़र्क़ नहीं रहा। इंदौर में चूड़ियां बेचने वाले तसलीम को एक उग्रवादी भीड़ ने बेरहमी से पीटा। अब पुलिस ने तसलीम के खिलाफ़ ही FIR दर्ज कर दिया। तसलीम का जुर्म ये है के वो मुसलमान होने के बावजूद चुप-चाप लिंच नहीं हुआ। उसको लूटने और मारने वाले अभी तक गिरफ़्तार नहीं हुए।