दिल्ली-एनसीआर में आफत की बरसात, 24 घंटे में दर्ज की गई रिकार्ड बारिश

Whatsapp

नई दिल्ली। पिछले एक पखवाड़े से उमस और गर्मी से परेशान दिल्ली-एनसीआर में शनिवार सुबह से कई घंटे तक झमाझम बारिश हुई। इससे जहां गर्मी और उमस से राहत मिली तो जलभराव ने लोगों की हाल बेहाल कर दिया। दिल्ली की सफदरजंग वेधशाला के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान यानी शनिवार सुबह 8.30 बजे तक दिल्ली में 138.8 मिमी बारिश दर्ज की। यह इस मौसम की सबसे अधिक एक दिवसीय बारिश है।

टूटा 13 साल का रिकार्ड

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, पिछले 24 घंटे के दौरान दिल्ली में रिकार्ड तोड़ बारिश हुई है। IMD की मानें तो 2009 के बाद यह पहली बार है जब अगस्त महीने में एक दिन में इतनी बारिश हुई है। झमाझम बारिश ने 13 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है। शनिवार सुबह 8 बजकर 30 मिनट तक सफदरजंग पर 138.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। वर्ष 2009 के बाद से अभी तक अगस्त महीने में 24 घंटे दौरान यह सर्वाधिक बारिश है। इससे पहले 27 जुलाई को 100 मिलीमीटर, जबकि 20 अगस्त 2010 को 110 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी। वहीं, बारिश की वजह से पारा भी गिरा है और तापमान 27 डिग्री सेल्सियस तक आ गया है। वहीं, दिल्ली के सफदरजंगर में  73.2 मिमी बारिश दर्ज की गई। यह रिकार्ड सुबह 8 बजे से पहले का है। अगस्त महीने में एक दिन का सर्वाधिक बारिश का रिकार्ड 2 अगस्त 1961 के नाम है, जब 184 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

उधर, दिल्ली से सटे गुरुग्राम में भी शनिवार सुबह से हो रही तेज बारिश के चलते शहर के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, सुबह आठ बजे तक 13 एमएम बारिश दर्ज की गई थी। गैलेरिया मार्केट, इफको चौक, ब्रिस्टल चौक, राजीव चौक, बसई रोड पर  जलभराव से बुरा हाल है। इसके चलते वाहन चालकों को बेहत परेशानी हो रही है। कई जगहों पर ट्रैफिक जाम जैसी स्थिति बनी हुई है।

जुलाई में भी हुई थी रिकार्ड बारिश

पिछले साल जुलाई में 236.9, 2019 में 199.2, 2018 में 286.2, 2017 में 170.5, 2016 में 292.5 और 2015 में 235.2 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई थी। 2013 में 340.5 मिमी बारिश रिकार्ड हुई थी। अब तक का सर्वाधिक वर्षा जुलाई 2003 में 632.2 मिमी हुई थी।

आइएमडी के मुताबिक, सफदरजंग वेधशाला ने 27 जुलाई तक 108 प्रतिशत ज्यादा 380.9 एमएम बारिश दर्ज की है, जबकि सामान्य बरसात 183.5 मिमी होती है। सामान्य तौर पर पूरे जुलाई माह में सामान्य तौर पर 210.6 मिमी बरसात होती है।