केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र कुमार खटीक बोले, केंद्र में 27 ओबीसी मंत्री बनाए गए

Whatsapp

भोपाल। भोपाल में जन आशीर्वाद यात्रा शुरू करने से पहले केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र कुमार खटीक ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि केंद्र सरकार में 27 ओबीसी मंत्री बनाए गए हैं। सभी वर्गों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रतिनिधित्व दिया है। लोकसभा के मानसून सत्र में विपक्ष ने गैर जिम्मेदाराना आचरण करते हुए एक भी दिन सदन नहीं चलने दिया। नए मंत्रियों को दायित्व मिलने के बाद प्रधानमंत्री लोकसभा और राज्यसभा में उनका परिचय कराते हैं, विपक्ष ने इस परंपरा को भी रोका। जब संसद में मंत्रियों से परिचय का काम नहीं करने दिया गया तो इन मंत्रियों को जनता के बीच भेजने का फैसला लिया गया। सभी नए मंत्री अपने-अपने राज्यों में जन आशीर्वाद यात्रा के जरिए लोगों के बीच में जाकर लोकसभा विधानसभा को ना चलने देने की हकीकत बता रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री खटीक ने कहा कि मराठा आरक्षण को लेकर महाराष्ट्र सरकार के फैसले को सुप्रीम कोर्ट ने रद्द किया। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की याचिका को भी सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया। ओबीसी आरक्षण के लिए राज्यों को शक्ति बहाल करने की तैयारी विधेयक के जरिए की गई। मंडल कमीशन की सिफारिशों को कांग्रेस ने कभी लागू नहीं करने दिया। ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का काम कांग्रेस ने नहीं भाजपा ने किया है। उन्होंने कहा कि विपक्ष अपने दायित्वों से हटकर केवल शोर शराबे को अपनी जिम्मेदारी मान बैठा है।