तालिबान की तरह पाबंदियां लगाए रखता था फैजान, हत्या करने की धमकी दी

Whatsapp

इंदौर। फर्नीचर कारोबारी फैजान खान पर दुष्कर्म, लव जिहाद, एट्रोसिटी एक्ट के तहत केस दर्ज करवाने वाली ब्यूटी पार्लर संचालिका ने मंगलवार शाम बयान दर्ज करवा दिए। महिला ने फैजान के दोस्त शादाब और भूमाफिया बब्बू के बेटे फरहान का नाम भी मददगारों में कबूला है। महिला ने कहा कि आरोपित मेरे नाबालिग बेटे के सामने ही मारपीट करता था। बेटे की गर्दन पर चाकू अड़ाकर हत्या की धमकियां देता था।

बायपास की एक बड़ी टाउनशिप में रहने वाली 35 वर्षीय महिला ने सोमवार रात फैजान के विरुद्ध केस दर्ज करवाया था। पुलिस फैजान की तलाश में छापे मार रही है। उसका विजय नगर और खजराना क्षेत्र में फर्नीचर का व्यवसाय है। पिता इकबाल खान प्रापर्टी कारोबारी है। एट्रोसिटी की धाराओं में कायमी होने से सीएसपी (खजराना) अनिलसिंह राठौर को जांच सौंपी है। सीएसपी ने पीड़िता के बयान लिए तो कहा कि फैजान से वर्ष 2017 में मुलाकात हुई थी। शुरुआत में उसने कहा कि बहन का मैकअप करवाना चाहता है। फिर मोबाइल पर बातें करने लगा और एक दिन फ्लैट पर आ गया। चाकू अड़ाकर दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो बना लिया। बाद में इंटरनेट मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म करता रहा।

उसने कहा कि वह पहले पति से अलगाव के बाद बेटे के साथ रहती है। फैजान ने उसकी मजबूरी का फायदा उठाया और बदनाम करने की धमकी देकर चार साल तक संबंध बनाए। इस बीच उससे एक बेटा भी पैदा हुआ। कुछ महीने पूर्व उसने एक युवती से रिश्ता तय कर लिया और शादी की तैयारियों शुरू कर दी। एक दिन उसने फोन पर बातें सुन ली और उस युवती के स्वजनों को पूरा घटनाक्रम बता दिया।

तालिबान की तरह पाबंदियां लगाए रखता था फैजान

पीड़िता के मुताबिक फैजान तालिबानी फरमान सुनाता था। कभी जिंस नहीं पहनने देता था। उसे अकेले बाहर आने जाने पर पाबंदी लगा दी थी। मैकअप के ऑर्डर लेकर जाती तो अचानक कार लेकर आ जाता था। उसकी रैकी करता था और कार्यक्रम से उठाकर जबरन ले जाता था। आनलाइन देखकर स्क्रीन शाट मांगता था कि मैं किससे बातें कर रहा हूं। जब भी मोबाइल व्यस्त आता तो बात करने वाले की सारी जानकारी भी लेता था।