पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने के बाद कैबिनेट मंत्री ने कही ये बात

Whatsapp

भोपाल: कमलनाथ सरकार ने सत्ता में आने से पहले वादा किया था कि वे पेट्रोल-डीजल के दाम नही बढ़ाएंगे। लेकिन सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ा दिए हैं, जिसके बाद मप्र सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठने लगे हैं। सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर पांच प्रतिशत टैक्स बढ़ा दिया है। जिसके बाद विपक्ष ने सरकार की घेराबंदी शुरु कर दी है। ऐसे में कमलनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह ने कहा है कि जो गरीब है जिसे खाने के लिए एक रोटी नही है और जो 8 रोटी खाता है उससे छीन कर गरीब परिवार को 2 रोटी दे दो तो इसमे कोई अन्याय वाली बात नही।

सिर्फ थोड़े समय के लिए है, गोविंद सिंह
गोविंद सिंह ने कहा सरकारी खजाना खाली है, शिवराज पूरा खजाना चट कर गए हैं। ऐसे में सरकार को चलाना है, सड़कें बनाना है, कर्ज माफ करना है, गेहूं बोनस देना है इस पैसे से सरकार किसानों का हित देखेगी। यह स्थाई रुप से नहीं है। सरकार ने जो वादे किए हैं उन्हें पूरा कर रही है। किसी भी कोई भार नही आने दिया जाएगा। यह सिर्फ थोड़े समय के लिए है।

इससे किसानों को हुए नुकसान की भरपाई होगी
वही कैबिनेट मंत्री पीसी शर्मा का कहना है कि केन्द्र ने बढ़ाया वैट टैक्स उसके बाद राज्य सरकार ने ये कदम उठाया है, लेकिन जनता पर इसका ज्यादा असर नही पड़ेगा। बढ़े दामों पर वित्त मंत्री तरूण भनोत का कहना है कि वित्तीय प्रबंधन के लिए डीज़ल और पेट्रोल पर वैट बढ़ाया गया है। इससे जो भी पैसा आएगा उसे किसानों को हुए नुकसान की भरपाई में लगाया जाएगा।

शिवराज के मंदसौर धरने को लेकर मंत्री ने कहा कि शिवराज के पास कोई काम नही बचा है। इसलिए प्रदेश की जनता ने उन्हें यह काम सौंप रखा है। उन्होंने शिवराज को सलाह देते हुए  कहा कि वह एक नाटक कंपनी खोल लें और जगह-जगह जाकर लोगों का मनोरंजन करें।