अमित शाह से मिलीं बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, गृह मंत्रालय में हुई दोनों की मुलाकात

Whatsapp

नई दिल्ली।  पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने पहुंचीँ। दोनों नेताओं की मुलाकात गृह मंत्रालय में हुई।

ANI

@ANI

Delhi: West Bengal CM Mamata Banerjee arrives at Ministry of Home Affairs, to meet Union Home Minister Amit Shah

View image on Twitter

ANI

@ANI

Delhi: Chief Minister of West Bengal, Mamata Banerjee meets Union Home Minister Amit Shah.

View image on Twitter
181 people are talking about this

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने गृह मंत्रालय पहुंची थीं।

ANI

@ANI

Delhi: West Bengal CM Mamata Banerjee arrives at Ministry of Home Affairs, to meet Union Home Minister Amit Shah

View image on Twitter
129 people are talking about this
दूसरी बार पीएम बनने के बाद पहली बार बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने करीब डेढ़ साल बाद बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके दिल्ली स्थित आवास पर मुलाकात की। पीएम के जन्मदिन के एक दिन बाद सीएम ममता ने उन्हें संदेश मिठाई और कुर्ता भेंट दिया।

इस दौरान ममता ने पीएम मोदी को देवचा पचामी कोयला परियोजना के उद्घाटन के लिए बंगाल आने का भी न्योता दिया। करीब आधे घंटे पीएम के साथ मुलाकात के बाद पत्रकारों से मुखातिब तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी ने बैठक को सकारात्मक व गैर-राजनीतिक करार देते हुए कहा कि उन्होंने दुर्गा पूजा व नवरात्रि के बाद राज्य के देवचा पचामी कोयला परियोजना के उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री को बंगाल आने का अनुरोध किया है।

पीएम के समक्ष रखी विभिन्न मांग

मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की विभिन्न मांगों को पीएम के समक्ष रखा। बातचीत में ममता बनर्जी ने कहा कि यह मुलाकात चयनित राज्य सरकार व केंद्र सरकार के बीच थी और इसका कोई राजनीतिक मायने नहीं निकाला जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य का केंद्र पर 13,500 करोड़ रुपये बकाया है। यह विषय भी प्रधानमंत्री के समक्ष रखा। इसके अलावा पश्चिम बंगाल के नाम के परिवर्तन का मुद्दा लंबे समय से लंबित है। इससे भी उन्हें अवगत कराया तो उन्होंने कुछ विकल्प ढूंढने की बात कही है।

ममता बनर्जी का यह भी कहना था कि इस संबंध में यदि केंद्र की कोई राय है तो उससे भी राज्य सरकार को अवगत कराया जाना चाहिए। इसके अलावा बैंकों के विलय, एयर इंडिया व अन्य कंपनियों के निजीकरण के संबंध में भी राज्य के रुख से अवगत कराते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री को पत्र सौंपा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वित्तीय मामलों के संबंध में राज्य के वित्त मंत्री अमित मित्रा, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से बाद में मुलाकात करेंगे।

पीएम की पत्नी जशोदा बेन से भी मिली थीं:

ममता मंगलवार को ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदा बेन से कोलकाता एयरपोर्ट पर मुलाकात की थी। दरअसल पीएम मोदी के साथ बैठक के लिए दिल्ली रवाना होने के लिए ममता जब नेताजी सुभाष चंद्र बोस हवाईअड्डे पहुंची तो उन्हें पता चला कि जशोदा बेन भी पहुंची हैं। यह जानकारी मिलते ही वो जशोदा बेन के पास गईं। उनके साथ काफी देर तक बातचीत की। इस दौरान उन्होंने जशोदा बेन को साड़ी भेंट की।

संदेहास्पद है पीएम के साथ सीएम की मुलाकात :

कांग्रेस लोकसभा में कांग्रेस सांसदीय दल के नेता अधीर चौधरी ने ममता-मोदी मुलाकात को संदेहास्पद करार देते हुए कहा कि यदि सबकुछ ठीक चल रहा है तो फिर इस मुलाकात के मायने क्या हैं? उन्होंने कहा कि जिस तरह सीएम दो सरकारों के बीच अराजनैतिक मुलाकात कह रही हैं तो फिर इस मुलाकात में आला प्रशासनिक अधिकारियों को भी शामिल होना चाहिए था। अधीर ने कहा कि यदि राज्य के लिए कुछ पाने की नियत से ही यह मुलाकात है तो बजट से पहले होनी चाहिए थी। अधीर ने कहा कि सारधा मामले में कोलकाता के पूर्व पुलिस कमीश्नर राजीव कुमार पर सीबीआइ की गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है और ऐसे में ममता का यह कहना है कि वे गृह मंत्री अमित शाह से मिलेंगी, इस मुलाकात को संदेह के कटघरे में ला खड़ा करता है।

पब्लिक है सब जानती है :

माकपा मुलाकात के संदर्भ में टिप्पणी करते हुए वाममोर्चा परिषदीय दल के नेता व माकपा विधायक सुजन चक्रवर्ती ने कहा कि यदि मुलाकात दो चयनित सरकारों के बीच ही है तो फिर कागज, तथ्य सब कुछ पेश किया जाना चाहिए था लेकिन ऐसा कुछ नहीं दिखा, दरअसल यह सब बुआ-भतीजे को बचाने की तरकीब है लेकिन पब्लिक है सब जानती है। ममता के सांसद भतीजे अभिषेक बनर्जी की ओर इशारा करते हुए सुजन ने कहा कि एनआरसी इतना बड़ा मुद्दा है लेकिन कोई बात नहीं हुई ऐसा इसलिए क्योंकि राजीव कुमार का चाहे जो हो भतीजे को बचाना है।