स्काउट ट्रेनिंग ले रहे जमीयत उलेमा-ए-हिंद के 66 मौलाना, मदरसों में पढ़ाने की तैयारी

Whatsapp

पचमढ़ी: देश के सबसे बड़े मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद के 66 मौलाना मध्य प्रदेश के पचमढ़ी में स्काउट ट्रेनिंग ले रहे हैं। संगठन के महासचिव मौलाना महमूद मदनी की अगुवाई में ये पूरी टीम शारीरिक और मानसिक फिटनेस के लिए इस चार दिवसीय कैंप में हिस्सा ले रही है। ये कैंप भारत स्काउट गाइड राष्ट्रीय प्रशिक्षण संस्थान, पचमढ़ी में चल रहा है। जहां पूरे देश से जमीयत-ए-हिंद के 66 मदरसों के एचओडी, हाफिज, आलिम, कारी, मुफ्ती शामिल हैं। कमिश्नर स्तर का ये प्रशिक्षण शुक्रवार से शुरू हुआ है और मंगलवार तक जारी रहेगा।

संगठन के जनरल सेकेट्री मौलाना महमूद मदनी ने कहा कि भारत स्काउट गाइड अब जमीयत उलेमा-ए-हिंद के देशभर में स्थित मदरसों में पढ़ाया जाएगा और इसके लिए मदरसों के एचओडी यहां से प्रशिक्षण लेंगे। उन्होंने बताया कि स्काउट गाइड के नौ नियम इस्लाम के मुताबिक हैं, जिस पर चलकर मुस्लिम बच्चे देश और समाज को नई दिशा देंगे। वहीं उन्होने देश के युवा को फौज, पुलिस और स्काउट की ड्रेस पहनने में गर्व महसूस करने की भी बात कही।

आपको बता दें, कि जमीयत उलेमा-ए-हिंद मदरसे से 20 हजार नौजवान यूथ क्लब के जरिए स्काउट गाइड की ट्रेनिंग ले चुके हैं। इतना ही नहीं ये कार्यक्रम मौजूदा समय में गुजरात, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के 17 जिलों में स्थित जमीयत उलेमा-ए-हिंद के मदरसों में चला रहा है। इसके साथ ही इस बार हज के दौरान एयरपोर्ट पर मदरसों के प्रशिक्षित स्काउटों ने ही हजयात्रियों की मदद और उनको गाइड किया।