नाव हादसे में पीड़ित परिवारों से मिले शिवराज, मेयर ने दी 2-2 लाख की सहायता राशि

Whatsapp

भोपाल: भोपाल के खटलापुरा में नाव हादसे में डूबे मृतकों के परिजनों से मिलने पूर्व मुख्यमंत्री पिपलानी के 100 क्वार्टर इलाके पहुंचे। वहां पहुंचकर शिवराज सभी मृतकों के परिजनों से मिले और उन्हें ढांढस बंधाया। इस दौरान स्थानीय विधायक कृष्णा गौर और विधायक विश्वास सांरग व महापौर आलोक शर्मा भी मौजूद थे।

शिवराज सिंह ने इस दुर्घटना को बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बताया। वहीं शिवराज सिंह की मौजूदगी में महापौर आलोक शर्मा ने नगर निगम की तरफ से मृतकों के परिजन को दो दो लाख के चेक दिए। इसी के साथ मृतक के परिवार से किसी एक व्यक्ति को नगर निगम में नौकरी और मकान देने की भी बात कही।

कमलनाथ पर कसा तंज
पीड़ितों से मिलने के बाद पूर्व सीएम शिवराज सिंह ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार को भविष्य में ऐसे हादसे ना हो इसकी चिंता करनी चाहिए। घटना में अपराधिक लापरवाही के दोषियों को सजा जरूर मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि राजनीति से ऊपर उठकर परिजनों के साथ दुख बांटना जरूरी है। परिवार के एक-एक सदस्य को नगर निगम की तरफ से नौकरी दी जा रही है, लेकिन राज्य सरकार को चाहिए कि परिवार के एक सदस्य को परमानेंट नौकरी की व्यवस्था हो। नगर निगम ने आज प्रत्येक परिवार को दो लाख रुपये के चेक दिए हैं। हम सरकार से मांग करते हैं कि पीड़ित परिवारों को 25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मिले। उन्होंने सरकार से पीड़ितों के लिए आवास की मांग भी रखी।

वही शिवराज ने कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि, मुझे लगता है कि इतने बड़े हादसे के बाद सीएम को आना चाहिए था, आना नहीं आना उनकी मानसिकता है। अपनी राय देते हुए उन्होंने कहा कि अगर सीएम आते तो पीड़ित परिवारों को भी अच्छा लगता कि उनके सीएम दुख की इस घड़ी में उनके साथ हैं। क्योंकि हादसा राजधानी में ही हुआ है कहीं दूर की बात नहीं है। वहीं उन्होंने कहा कि हम सब पीड़ित परिवार के साथ खड़े हैं।