भोपाल नाव हादसे में लापरवाह रेवेन्यू इंस्पेक्टर समेत 4 पर गिरी गाज, हुए सस्पेंड

Whatsapp

भोपाल: राजधानी भोपाल के खटला पुरा घाट पर गणेश विसर्जन के दौरान हुए नाव हादसे में 11 लोगों की मौत होने के बाद हादसे का कारण तलाश रहे प्रशासन ने लापरवाही पाए जाने पर बड़ी कार्रवाई की है। शुरुआती कार्रवाई में लापरवाही बरतने वाले रेवेन्यू इंस्पेक्टर अनिल गहवाने, बोगदा पुल के फायर स्टेशन इंचार्ज साजिद खान, नगर निगम के सब सिविल इंजीनियर आर के सक्सेना और ऐशबाग थाना के एएसआई यादव को सस्पेंड कर दिया है।

भोपाल के डीएम तरुण पिथोड़े ने कार्रवाई करते हुए कहा कि तहसील कोलार में पदस्थ राजस्व निरीक्षक अनिल गव्हाणे को खटलापुरा विसर्जन घाट पर व्यवस्थाओं के लिए रात्रि 2 से विसर्जन समाप्ति तक के लिए नियुक्त किया गया था। लेकिन जांच में पाया गया है कि राजस्व निरीक्षक ने ड्यूटी में लापरवाही की, जिसकी वजह से यह दर्दनाक हादसा हुआ।

गणेश विसर्जन के दौरान हुआ हादसा

बता दे कि भोपाल के छोटा तालाब के खटलापुर घाट पर शुक्रवार सुबह साढ़े चार बजे गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान अचानक हुए हादसे में 11 लोग तालाब में गिर गए। मृतकों में सारे नौजवान ही है। सीएम कमलनाथ ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। डीएम ने दंड प्रक्रिया संहिता 1973 के आदेशों के तहत अपर जिला मजिस्ट्रेट सतीश कुमार एस को मजिस्ट्रीयल जांच अधिकारी नियुक्त किया है।