कांग्रेस पर बरसे शिवराज, बोले- सरकार नहीं चलने दूंगा

Whatsapp

विदिशा: पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान बुधवार को विदिशा में एक जमकर बरसे। वे विदिशा में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। सरकार की वादाखिलाफी पर हमला करते हुए शिवराज सिंह ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने अनेक झूठे वायदे करके मध्यप्रदेश की जनता को छला है। कर्जमाफ़ी नहीं हुई। बिजली गुल होने लगी, बिल भी ज्यादा आने लगे, मेरी योजनाओं का तक लाभ मिलना बंद हो गया। शिवराज ने चेतावनी दी कि अब वक्त आ गया है सरकार को नीद से जगाने का। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि जनता के काम नहीं हुए तो सरकार नहीं चलने दूंगा।

Shivraj Singh Chouhan

@ChouhanShivraj

कमलनाथ सरकार ने अनेक झूठे वादे करके मध्यप्रदेश की जनता को छला। कर्जमाफ़ी नहीं हुई, किसानों को उनके हक़ का पैसा नहीं मिला, बिजली गुल होने लगी, बिल ज़्यादा आने लगे, मेरी योजनाओं का तक लाभ मिलना बंद हो गया।

सरकार को नींद से जगाने के लिए आज विदिशा में प्रारम्भ किया।

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
100 people are talking about this
ईंट से ईंट बजा दूंगा

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बारिश से आम जन का बहुत नुकसान हुआ। मैं होता तो अब तक लोगों को मुआवज़ा दे देता, लेकिन इस सरकार ने तो सर्वे तक नहीं कराया। राज्य सरकार को चेतावनी देता हूं कि वह शीघ्र सर्वे करवाकर उचित मुआवज़ा जनता को दें, नहीं तो मैं ईंट से ईंट बाजा दूंगा।

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

आज विदिशा में श्री @ChouhanShivraj ने प्रदेश की बेहाल जनता की सुध लेने हेतु कमलनाथ सरकार को नींद से जगाने के लिए स्थानीय नागरिकों और @BJP4MP के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ शुरू किया।

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

बारिश में लोगों के घरों में पानी घुसा, बहुत नुकसान हुआ। मैं होता तो अब तक लोगों को मुआवज़ा दे देता लेकिन इस सरकार ने तो सर्वे तक नहीं कराया। राज्य सरकार को चेतावनी देता हूँ कि वह शीघ्र सर्वे करवाकर उचित मुआवज़ा जनता को दे नहीं तो मैं ईंट से ईंट बाजा दूंगा!: श्री @ChouhanShivraj

Embedded video

21 people are talking about this
चौहान ने आगे कहा कि कमलनाथ सरकार को नींद से जगाने के लिए विदिशा में घंटानाद आंदोलन शुरू किया गया है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार सिर्फ मंत्रालय में चल रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की बेहाल जनता की सुध लेने के लिए कमलनाथ सरकार को नींद से जगाने के लिए यह आंदोलन शुरू किया गया है।

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

आज विदिशा में श्री @ChouhanShivraj ने प्रदेश की बेहाल जनता की सुध लेने हेतु कमलनाथ सरकार को नींद से जगाने के लिए स्थानीय नागरिकों और @BJP4MP के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ शुरू किया।

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
67 people are talking about this

 खातों में फूटी कौड़ी तक नहीं डाली
शिवराज सिंह ने कहा कि जब मैं सीएम था तो मैं बेटियों की शादी करवाता था। उनके खातों में पैसे भी डालता था। कांग्रेस ने एक फूटी कौड़ी तक नहीं डाली। इसके अलावा बेटे-बेटियों की फीस भरवाना भी बंद कर दी गई। मेधावी विद्यार्थियों को न लैपटॉप मिल रहा है और न ही स्मार्टफोन!

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

बारिश में लोगों के घरों में पानी घुसा, बहुत नुकसान हुआ। मैं होता तो अब तक लोगों को मुआवज़ा दे देता लेकिन इस सरकार ने तो सर्वे तक नहीं कराया। राज्य सरकार को चेतावनी देता हूँ कि वह शीघ्र सर्वे करवाकर उचित मुआवज़ा जनता को दे नहीं तो मैं ईंट से ईंट बाजा दूंगा!: श्री @ChouhanShivraj

Embedded video

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

मैं बेटियों की शादी करवाता था तो उनके खातों में पैसे भी डालता था। इन लोगों ने एक फूटी कौड़ी तक नहीं डाली। इसके अलावा बेटे-बेटियों की फीस भरवाना भी बंद कर दी गई। मेधावी विद्यार्थियों को न लैपटॉप मिल रहा है और न ही स्मार्टफोन!: श्री @ChouhanShivraj

Embedded video

30 people are talking about this

गर्भवती महिलाओं को लाभ नहीं मिल रहा
ठगरीब गर्भवती बहनों को बच्चे को जन्म देने के पहले रु. 4,000 और जन्म के बाद रु. 12,000 देता था, वह भी बंद हो गया। मैं आप सभी के हक़ की लड़ाई लड़ूंगा। मुझे कोई पद का लालच नहीं है, सिर्फ आपका साथ चाहिए।

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

मैं बेटियों की शादी करवाता था तो उनके खातों में पैसे भी डालता था। इन लोगों ने एक फूटी कौड़ी तक नहीं डाली। इसके अलावा बेटे-बेटियों की फीस भरवाना भी बंद कर दी गई। मेधावी विद्यार्थियों को न लैपटॉप मिल रहा है और न ही स्मार्टफोन!: श्री @ChouhanShivraj

Embedded video

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

गरीब गर्भवती बहनों को बच्चे को जन्म देने के पहले रु. 4,000 और जन्म के बाद रु. 12,000 देता था, वह भी बंद हो गया। मैं आप सभी के हक़ की लड़ाई लड़ूँगा। मुझे कोई पद का लालच नहीं है, सिर्फ आपका साथ चाहिए।: श्री @ChouhanShivraj

Embedded video

34 people are talking about this

जीना है तो मरना सीखो हक  के लिए लड़ना सीखो
शिवराज सिंह चौहान ने शेयर भी पढ़ा- ‘जीना है तो मरना सीखो, अपने हक़ के लिए लड़ना सीखो! आज मैं गरीब जनता के अधिकारों की रक्षा करने के लिए निकल पड़ा हूँ, जनता को न्याय दिलाकर रहूंगा।

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

मुख्यमंत्री रहते हुए विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु मैंने राशि का प्रावधान किया था। कमलनाथ सरकार ने सब चौपट कर दिया। फसलों के खराब होने पर अब तक सर्वे नहीं हुआ।: श्री @ChouhanShivraj

Embedded video

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

‘जीना है तो मरना सीखो, अपने हक़ के लिए लड़ना सीखो!’

आज मैं गरीब जनता के अधिकारों की रक्षा करने हेतु निकल पड़ा हूँ, जनता को न्याय दिलाकर रहूंगा।: श्री @ChouhanShivraj

Embedded video

43 people are talking about this

गणेश मंदिर में शिवराज ने गाए भजन
शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार सुबह विदिशा स्थित बाढ़ वाले मंदिर में पूजा अर्चना की और उन्हें 56 भोग लगाया गया। गणेश मंदिर में स्थानीय नागरिकों और श्रद्धालुओं के साथ भजन-कीर्तन का आनंद लिया। यज्ञ में आहूति दी और कन्या भोजमें भोजन परोसा। इस दौरान उन्होंने भजन भी गाए।

Office of Shivraj

@OfficeofSSC

श्री @ChouhanShivraj ने आज विदिशा स्थित बाढ़ वाले गणेश मंदिर में स्थानीय नागरिकों और श्रद्धालुओं के साथ भजन-कीर्तन का आनंद लिया।

Embedded video

147 people are talking about this

किसान के खेत का लिया जायजा
शिवराज सिंह ने डूब प्रभावित किसान की फसल का जायजा भी लिया और कमलनाथ सरकार तंज कसते हुए कहा कि मंत्रिमंडल से बाहर निकल कर किसानों की बदहाली का हाल भी पूछना चाहिए।

Shivraj Singh Chouhan

@ChouhanShivraj

मुख्यमंत्री कमलनाथ जी से आग्रह करता हूँ कि आप और आपके मंत्रिमंडल के सदस्य बाहर निकल कर ज़रा इस तबाही को देखें। फसलें खराब होने के साथ ही किसानों की जिंदगी और उनके बच्चों का भविष्य अंधकारमय हो गया है। इन किसानों की फसलों का सर्वे कर तत्काल राहत देकर नुकसान की भरपाई की जानी चाहिए।

Embedded video

341 people are talking about this