सीताराम दयोदय गौशाला में 8 गायों की मौत, ये है बड़ी वजह

Whatsapp

हरदा: मध्‍य प्रदेश के हरदा जिले के सीताराम दयोदय गौशाला में एक साथ 8 से अधिक गायों के मरने का मामला सामने आया है। सूचना मिलने पर पशु चिकित्सा विभाग का अमला और प्रशासनिक अधिकारी हरकत में आए और मौके पर पहुंच कर जांच की। डॉक्टर्स ने अन्य गायों का भी चैकअप किया।

जानकारी के अनुसार, सीताराम दयोदय गौशाला में सभी मवेशी सड़कों से पकड़कर जिला प्रसाशन द्वारा गौशाला में भेजे गए थे, जिनके रखरखाव की जिम्मेदारी भाजपा शाषित नगर पालिका हरदा को दी गई थी। पशु चिकित्सा विभाग के उपसंचालक ने परीक्षण कर बताया कि किसी प्रकार के संक्रमण से गायों की मौत नहीं हुई है। जबकि गायों की मौत पर सभी जिम्मेदार अलग-अलग तर्क देते रहे। बताया गया है कि गायों की मौत होने के बाद मामले को दबाने का पूरा प्रयास किया गया और उन्हें पास के मैदान में फेंक दिया गया था, जहां अन्य जानवर उन्हें खा रहे थे।

ये है मौत की वजह
गौशाला में क्षमता से अधिक मेवशी होने के कारण गायों का अच्छे से उनका रखरखाव भी नहीं हो पा रहा था और यही गायों की मौत की सबसे बड़ी वजह है। वहीं जांच के लिए गौशाला में पहुंचे पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टर्स ने अन्य गायों की जांच कर उनका उपचार किया। उपसंचालक पशु चिकित्सा विभाग के डॉ राजेंद्र गौर ने गायों की मौत का कारण बताते हुए कहा कि गायों की मौत संक्रमण से नहीं बल्कि बड़े जानवरों द्वारा छोटे और कमजोर को दबाने से हुई है। उन्होंने सिर्फ तीन गायों की मौत होना बताया।

SDM पहुंचे गौशाला
गायों की मौत की सूचना मौके पर पहुंचे एसडीएम एचएस चौधरी ने बताया कि गौशाला में अव्यवस्था थी। अब कमजोर पशुओं को कृषि मंडी में रखा जाएगा। उन्हें गायों की मौत की जानकारी नहीं है, लेकिन जब मौजूद लोगों ने गायों की मौत के बारे में बताया तो आगामी कदम उठाए जाएंगे।