50 लाख का बीमा कराकर फाइनेंसर ने खुद की कराई हत्या, सच्चाई जान पुलिस के भी उड़े होश

भीलवाड़ा: राजस्थान में भीलवाड़ा के बापूनगर थाना क्षेत्र में एक फाइनेंसर बलवीर सिंह खारोल की हत्या के मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस की मानें तो फाइनेंसर की कहानी भी कि सी फिल्म से कम नहीं रही। परिवार के सुख के लिए उसने खुद को ही मरवा डाला। वह भी इसलिए कि परिवार को बीमा के 50 लाख रुपए मिल सके।

खुद का करवाया खुद का बीमा
पुलिस ने इस मामले में हरियाणा और उत्तर प्रदेश के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक हरेंद्र महावर ने पत्रकारों को बताया कि बलवीर पैसे का लेन-देन एवं फायनेंस का काम करता था। बलवीर सिंह ने लोगों को 20 लाख रुपए दिए जो वे लौटा नहीं रहे थे। जिससे वह अवसादग्रस्त हो गया। तब उसने अपने परिजनों को फायदा पहुंचाने के लिये खुद की हत्या की योजना बनाई। इसके तहत उसने खुद का 50 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा करवाया। इसकी एवज में उसने आठ हजार 432 रुपए का प्रीमियम भी दिया। 

बलवीर सिंह की गला घोंटकर कर दी थी हत्या
उन्होंने बताया कि उसने हरियाणा के कुरुक्षेत्र के गांधीनगर निवासी राजवीर और उत्तर प्रदेश में हरदोई जिले के जीयनखेड़ा के सुनील को 80 हजार रुपए में खुद की हत्या करने का सौदा कर लिया। इसके लिए बलवीर ने 10 हजार रुपए सुनील यादव को अग्रिम के रूप में अदा भी कर दिए। इसके बाद तीन सितंबर को दोनों ने बलवीर सिंह की गला घोंटकर हत्या कर दी और शव गुवारड़ी पुलिस के रास्ते में फेंक दिया।