केरपानी के एक हिस्से में भरा पानी,एसडीएम और तहसीलदार मौके पर पहुंचे

Whatsapp

नर्मदा व उसकी सहायक नदियां उफान पर,नर्मदातटीय क्षेत्रों में प्रशासन की टीम सक्रिय

राष्ट्र चंडिका (अमर नोरिया )नरसिंहपुर – जिले में दो दिन से जारी भारी बरसात और बरगी बांध के खोले गये गेट से जिले के नर्मदातटीय क्षेत्रों में नर्मदा का जलस्तर लगातार बढ़ा हुआ है । नरसिंहपुर कलेक्टर दीपक सक्सेना, एडीएम मनोज ठाकुर सहित पुलिस अधीक्षक गुरुकरन सिंह व होमगार्ड के अधिकारियों के निर्देश पर जिले में बने बाढ़ व अतिवृष्टि के हालातों के बाबजूद स्थिति पर लगातार निगरानी जारी है व नियंत्रण में है । गौरतलब है कि 8 सितंबर की सुबह से प्रशासन द्वारा जारी अलर्ट से सक्रिय हुआ प्रशासनिक अमला और सतर्क हुए आमजनों ने नर्मदा तथा उसकी सहायक  हिरन, शेर , शक्कर नदियों सहित जिले में बहने वाली अन्य छोटी नदियों और नालों के किनारे रहने वालों ने अपने आपको सुरक्षित किया व अपने जानमाल की रक्षा की । जबलपुर में बरगी बांध से छोड़े जा रहे पानी की अधिकता के चलते नरसिंहपुर जिले का जबलपुर मार्ग से सम्पर्क टूटा हुआ है  गोटेगांव तहसील में झांसीघाट पुल के ऊपर से नर्मदा का पानी बह रहा है । जिले के पश्चमी छोर पर गाडरवारा तहसील में साईंखेड़ा उदयपुरा मार्ग के बीच झिकोली घाट पर नर्मदा नदी पुल के ऊपर से है और साईंखेड़ा से उदयपुरा मार्ग का आवागमन बंद है ।  गाडरवारा तहसील में शक्कर नदी भी अपने पूरे उफान पर है एनटीपीसी के पास डोंगरगांव में वह पुल के ऊपर से बह रही है । नरसिंहपुर से सांकल मार्ग सुपला के पास और नरसिंहपुर से उमरिया मार्ग में देवाकछार के पास मार्ग पर बहने वाली शेर नदी का जल स्तर भी बढ़ा हुआ है और वह इन मार्गो पर पड़ने वाले पुल व पुलियों के ऊपर से बह रही है । नर्मदा नदी के किनारे बसे गांव केरपानी के ख़िरका मोहल्ले में बनी दुकानों में पानी भरने के बाद दुकानों  को खाली  कराया गया तथा पटवारी एवं होमगार्ड टीम द्वारा सतत निरीक्षण किया जा रहा है मौके पर नरसिंहपुर एसडीएम महेश कुमार बमनहा, तहसीलदार राजेश कुमार मरावी सहित पुलिस विभाग व होमगार्ड्स के जवान भी पहुंचे और प्रभावित लोगों से मिले । इसी तरह गाडरवारा अनुविभाग के अंतर्गत पलोहा थाने के  ग्वारी गांव में भी पानी मे फंसे कुछ लोगों को होमगार्ड्स की टीम ने सुरक्षित निकाला । बाढ़ के चलते 8 सितंबर की शाम को बाजार से अपने घर डोंगरगांव ( आंडिया ) लौट रहे टीकाराम चौधरी पिता पंचमलाल जो बघा नाला पार करते समय तेज धार में बह गये तेज बहाब में बहने से उनकी मौत हो गई थी, होमगार्ड टीम द्वारा आज उनकी मृत बॉडी ढूंढ ली गई है , जिले में प्रशासन द्वारा जारी अलर्ट और सोशल मीडिया सहित अन्य माध्यमों से जारी किये गये निर्देशो व सूचना को लेकर लोगों को हर क्षेत्र की जानकारी मिल रही है और जहां जैसे भी सम्भव हो रहा है बाढ़ व अतिवृष्टि पीड़ितों को तत्काल मदद पहुंचे ऐसे प्रयास किये जा रहे हैं ।