ई-ऑक्शन में खरीदें PM मोदी को मिले उपहार, अढ़ाई लाख से शुरू होगी सबसे बड़ी बोली

Whatsapp

नई दिल्ली: नेशनल मॉडर्न आर्ट गैलरी (एन.जी.एम. ए.) दिल्ली में एक ई-ऑक्शन का आयोजन जल्द ही किया जाने वाला है जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विभिन्न प्रदेशों से मिले उपहारों की नीलामी की जाएगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के जिन राज्यों का दौरा किया और इस दौरान उन्हें जो भी वस्तुएं उपहार स्वरूप प्रदान की गईं उन्हें यहां ई-ऑक्शन में रखा गया है। उपहारों में कई बेहद मूल्यवान हैं। इन सभी उपहारों की डिस्पले को 14 सितम्बर तक तैयार करने के लिए कहा गया है क्योंकि 14 सितम्बर से ऑनलाइन ऑक्शन की शुरूआत की जाएगी।

अगर जरूरत महसूस हुई तो प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा समय-सीमा बढ़ाई भी जा सकती है। शनिवार को देर शाम केंद्रीय पर्यटन व संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल भी एन.जी.एम.ए. का दौरा करने पहुंचे थे। ऑक्शन में उपहारों की नीलामी 1 हजार रुपए से शुरू होगी। प्राप्त रकम को ‘नमामि गंगे प्रोजैक्ट’ को दिया जाएगा। याद रहे नियमानुसार जिन तोहफों की कीमत 5 हजार से ज्यादा होती है उनको सरकारी खजाने में जमा किया जाता है।

अढ़ाई लाख से शुरू होगी सबसे बड़ी बोली
उपहारों में सबसे कीमती 2 पेंटिंग हैं। एक पेंटिंग बनारस के कलाकारों द्वारा बनाई गई है जो बनारसी साड़ी में प्रधानमंत्री की आकृति बनाती है। दूसरी ऑयल पेंटिंग है जिसमें एक ओर गांधी जी और दूसरी ओर नरेंद्र मोदी हैं। इनकी बोली अढ़ाई लाख रुपए से शुरू होगी जोकि सबसे बड़ी बोली होगी।

चांदी का रथ और पगडिय़ां
एन.जी.एम.ए. के महानिदेशक अद्वैत चरण गडनायक के अनुसार चांदी के 6 रथ नीलामी के लिए रखे गए हैं जो बेहद खूबसूरत हैं। इसे महाभारत के आधार पर बनाया गया है। वहीं सोने का मोर भी काफी आकर्षक है। इसके अलावा विभिन्न राज्यों की पगडिय़ां हैं जिनमें सबसे सुंदर मणिपुर के मुख्यमंत्री द्वारा नरेंद्र मोदी को दी गई पगड़ी है।

मिले हथियार भी हैं आकर्षण का केंद्र
मोदी को कई राज्यों से विभिन्न प्रकार की तलवारें, गदा, धनुष बाण भी उपहार स्वरूप मिले हैं। इसके अलावा नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों से मिले पूजा पात्र, दुशाला, गुडिय़ा, देवताओं की मूर्तियां व मंदिरों के मॉडल भी यहां ऑक्शन के लिए रखे गए हैं।

मेक इन इंडिया और संकल्प से सिद्धि का मॉडल
परंपरागत उपहारों के साथ ही यहां ई-ऑक्शन में मेक इन इंडिया व संकल्प से सिद्धि का मॉडल भी नीलामी के लिए रखा गया है जिसे लेकर सभी काफी उत्सुक हैं और एन.जी.एम.ए. का कहना है कि युवाओं को यह काफी पसंद आएगा।

कलश, शॉल और वाद्ययंत्र
नरेंद्र मोदी को उपहार स्वरूप दिए गए शॉल, मूर्तियां, पेंटिंग के साथ ही वाद्ययंत्र भी खास हैं लेकिन चांदी के कलश आपको खासा आकर्षित कर सकते हैं। यहां एक ऐसा शीशा ऑक्शन के लिए रखा गया है जोकि केरल राज्य की परंपरा है, इसे अर्नामूला कन्नाडी कहते हैं जोकि कांच की बजाय लोहे से बनाया जाता है।