भोगांवा में ओटला तोड़ने को लेकर विवाद, पुलिस ने चार आरोपियों को पकड़ा

Whatsapp

भोपाल: कमलनाथ सरकार की गौसंरक्षण के लिए बनाई गई योजना पर केंद्रीय मंत्री राज्य प्रताप सारंगी ने शनिवार को जमकर तारीफ की। जिसके बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी ट्वीट करते हुए उन्हे धन्यवाद कहा। कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि गौमाता के संवर्धन व संरक्षण का निर्णय हमने प्राथमिकता से इसलिए लिया क्योंकि गौमाता हमारे लिये आस्था व गौरव का प्रतीक है। हम उसे सड़कों पर तड़पता हुआ नही देख सकते।

Office Of Kamal Nath

@OfficeOfKNath

गौमाता के संवर्धन व संरक्षण का निर्णय हमने प्राथमिकता से इसलिए लिया कि गौमाता हमारे लिये आस्था व गौरव का प्रतीक है। हम उसे सड़कों पर तड़पता हुआ नही देख सकते।
इसलिए हमने एक हज़ार गौशालाएँ बनाने का निर्णय लिया।
हमारे लिये गौमाता सियासत नही आस्था का विषय है।
1/3

297 people are talking about this

कमलनाथ ने आगे लिखा है कि ‘केंद्रीय पशुपालन राज्य मंत्री की एक हज़ार गौशालाएं खोलने के राज्य सरकार के निर्णय की खुले मन से तारीफ़ के लिये उनका आभार। कई प्रमुख संतजन भी हमारे इस निर्णय की सराहना कर चुके है। इससे हमें भविष्य में गौमाता के संरक्षण के लिये और कार्य करने की प्रेरणा मिलती है। इसलिए हमने एक हज़ार गौशालाएं बनाने का निर्णय लिया। हमारे लिये गौमाता सियासत नहीं आस्था का विषय है। हमारी सरकार गौवंश के संवर्धन व संरक्षण के लिये सदैव प्रतिबद्ध है और इस दिशा में निरंतर कार्य करती रहेगी।

केंद्रीय मंत्री सारंगी ने की थी कमलनाथ सरकार की तारीफ…
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में शनिवार को आयोजित इंडियन वेटरनरी कॉन्फ्रेंस में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे प्रताप सारंगी ने कहा, कि ‘देशभर में आवारा गायों की समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है जिसको काबू में करने के लिए राज्य सरकारें कोशिशें तो कर रही हैं, लेकिन उसका संतोषजनक फल नहीं मिल रहा है, अपने संबोधन के दौरान केंद्रीय राज्यमंत्री प्रताप सारंगी ने कमलनाथ सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि MP में आवारा गायों को आश्रय देने की ओर एक बड़ा कदम उठाते हुए कमलनाथ सरकार ने एक हजार गौशाला खोलने की योजना बनाई है जो काबिले तारीफ है।