तेजस्‍वी यादव पर भाजपा का हमला, गिनाए यादव नेताओं के नाम; दावा- इन्‍हें लालू परिवार ने लगाया ठिकाने

Whatsapp

पटना।  बिहार की सरकार में भाजपा (Bihar BJP) कोटे के मंत्री राम सूरत राय (Bihar Minister Ram Surat Rai) पर राजद (RJD) नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव (Ex Deputy Chief Minister Tejaswi Yadav) के हमलों का जवाब देने के लिए मंत्री की पार्टी भी अब हमलावर हो गई है। भाजपा ने तेजस्‍वी और लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के पूरे परिवार पर यादव जाति का विरोधी होने का आरोप लगाया है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा है कि राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामसूरत राय पर नेता विपक्ष तेजस्वी यादव अनर्गल लांछन लगा रहे हैं। तेजस्वी को रामसूरत राय के यादव होने से दिक्कत है, इसलिए वे उनका चरित्रहनन करना चाहते हैं।

लालू परिवार नहीं चाहता, कोई दूसरा यादव नेता बने

निखिल ने कहा कि लालू प्रसाद के परिवार के लोग यादवों को बंधुआ मजदूर बनाकर इस समाज की राजनीतिक ठेकेदारी करना चाहते हैं। लालू परिवार कभी नहीं चाहता है कि कोई भी दूसरा यादव नेता नेतृत्व के स्तर पर स्थापित हो और मंत्री, मुख्यमंत्री या केंद्रीय मंत्री बने। दुर्भाग्यपूर्ण है कि यादवों के नाम पर राजनीति करने वाले राजद नेता ने दूसरे दल के यादव नेताओं के चरित्रहनन की सुपारी ले ली है। तेजस्वी यादव को राम सूरत राय पर बयान देने से पहले लालू प्रसाद से पूछ लेना चाहिए कि अर्जुन राय कौन थे जिनके बेटे राम सूरत राय है जिनका परिवार सात पुश्तों से बेदाग है।

गिनाए कई नाम, कहा- इन नेताओं को लालू परिवार ने खत्‍म किया

बकौल निखिल आनंद, लालू परिवार ने अनूप लाल यादव, विनायक प्रसाद यादव, गजेंद्र प्रसाद हिमांशु, देवेंद्र यादव सहित अनगिनत यादव नेताओं को जीते जी खत्म किया है। राम लखन सिंह यादव, बुद्धदेव सिंह, दरोगा प्रसाद राय, बीपी मंडल जैसे लोकप्रिय यादव नेताओं के परिवार की उपेक्षा और बेइज्जती  करने में लालू ने कोई कोर कसर नहीं छोड़ा। अब तेजस्वी उसी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए चंद्र‍िका राय, नित्यानंद राय और रामसूरत राय ही नहीं उनके परिवार को गाहे-बगाहे निशाना बना रहे हैं।