ट्वीट पर कपिल सिब्बल ने पूछा सवाल- कौन करेगा मौलिक आजादी की रक्षा ?

Whatsapp

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को जेल भेजे जाने पर टिप्पणी करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वकील कपिल सिब्बल ने शुक्रवार को एक ट्वीट में मौलिक आजादी की सुरक्षा से जुड़े सवाल किए हैं। सिब्बल ने ट्विटर पर लिखा- ‘हमारी मौलिक स्वतंत्रता की रक्षा कौन करेगा? सरकार? सीबीआई? ईडी ? आयकर अधिकारी? या फिर अदालतें ? जिस दिन अदालतें मानती हैं कि ईडी, सीबीआई का कहना सच है, तो भगवती से वेंकटचलैइया युग में निर्मित स्वतंत्रता के स्तंभ ढह जाएंगे। वह दिन दूर नहीं है।’

बता दें कि दिल्ली की एक अदालत ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में चिदंबरम को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। स्पेशल जज अजय कुमार कुहाड़ ने चिदंबरम को 19 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया। अदालत ने पूर्व वित्त मंत्री को उनकी दवाइयां अपने साथ जेल में ले जाने की अनुमति दी और निर्देश दिया कि उन्हें तिहाड़ जेल के अलग सेल में रखा जाए, क्योंकि उन्हें जेड श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने अदालत को आश्वस्त किया कि चिदंबरम के लिए जेल में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी।