यातायात नियम तोड़ने पर भारी जुर्माना लगाए जाने से असहमत हैं महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री

Whatsapp

मुंबई: महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री दिवाकर रावते ने गुरुवार को कहा कि राज्य सरकार यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों पर संशोधित मोटर वाहन अधिनियम (एमवीए) के अनुसार भारी जुर्माना लगाए जाने के पक्ष में नहीं है। शिवसेना के वरिष्ठ नेता रावते ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि राज्य सरकार संशोधित अधिनियम को लागू करने पर अपना निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र है।

हालांकि, अधिनियम देशभर में 1 सितंबर से लागू हो गया। उन्होंने कहा,‘हमने फैसला लिया है कि हमारी राय यातायात नियम के उल्लंघनकर्ताओं को भारी चालान के साथ दंडित करने की नहीं है। मैं व्यक्तिगत रूप से इस कदम के खिलाफ हूं।’ वहीं,शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक कार्यक्रम में कहा कि राज्य में (विधानसभा चुनाव के लिए) चुनाव आचार संहिता अगले आठ-दस दिनों में लागू होने की उम्मीद है।