आबकारी कमिश्नर करेंगे मंत्री-विधायकों को पैसे देने से जुड़े आडियो की जांच

Whatsapp

भोपाल: वन मंत्री उमंग सिंघार, विधायक राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव व हीरालाल अलावा को शराब के पैसे देने के कथित आरोपों वाले वायरल ऑडियो की जांच सरकार ने अतिरिक्त आबकारी कमिश्नर मुकेश नेमा को सौंपी है।
दरअसल, सोशल मीडिया पर एक ऑडियो वायरल होने के बाद राज्य शासन के द्वारा धार में पदस्थ सहायक आयुक्त आबकारी विभाग संजीव दुबे को तत्काल प्रभाव से हटाया गया था। इस ऑडियो में मध्य प्रदेश के मंत्री, विधायको द्वारा शराब ठेकेदारों से लाखों रुपए लिए जाने की बातचीत होने की बात सामने आई हैं। आबकारी विभाग के सचिव मनु श्रीवास्तव ने बताया कि बुधवार को दुबे को इंदौर उपायुक्त कार्यालय में पदस्थ किया गया है।