कांग्रेस विधायक का कमलनाथ को अनोखा परामर्श- छत पर एक कौआ मारकर टांगना जरूरी हो गया है

Whatsapp

भोपाल: मध्य प्रदेश में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह व वन मंत्री उमंग सिंघार के बीच पनपा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। बल्कि हर रोज इसमें एक नया अध्याय जुड़ जाता है। अब इस दंगल में दिग्विजय समर्थक विधायक एंदल सिंह कंसाना कूद पड़े हैं। वहीं निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा भैया ने कांग्रेस की इंमरजेसी बैठक की मांग की है।

दिग्‍विजय सिंह के समर्थक में उतरे विधायक 
मुरैना के सुमावली से कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक एंदल सिंह कंसाना ने कांग्रेस में मचे घमासान में धमाके दार एंट्री की है। उन्होंने दिग्विजय सिंह का समर्थन करते हुए उमंग सिंघार पर जमकर निशाना साधा। उन्‍होंने तो यहां तक कह दिया कि जब छत पर बहुत सारे कौवे मंडरा रहे हों तो एक कौआ मारकर छत पर टांग देना चाहिए। कंसाना के अनुसार कांग्रेस की बेहतरी के लिए एक दो मंत्रियों को बर्खास्त करना पड़ेगा, क्योंकि कुछ मंत्री जिस डाल पर बैठे हैं उसी को काटने में लगे हैं।15 साल में बीजेपी दिग्विजय सिंह का कुछ नहीं बिगाड़ पाई, लेकिन पार्टी के छुटभैये नेता उन पर सवाल उठा रहे हैं।

शेरा ने इमरजेंसी मीटिंग की मांग उठाई
इस विवाद के बीच सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा भैया भी मैदान में हैं। उन्‍होंने सोनिया गांधी से मांग करते हुए कहा कि तुरंत इमरजेंसी मीटिंग बुलाना चाहिए और सभी नेताओं से बात करके मामले को शांत कराना चाहिए। सुरेंद्र सिंह के मुताबिक इस वक्त कांग्रेस पार्टी में जो हालात बने हैं उससे सरकार को उनके समर्थन देने पर प्रश्नचिन्ह लग रहा हैं। जबकि विवाद की वजह से जनता में सरकार की छवि भी खराब हो रही है।