गोल्ड बिटकॉइन के नाम पर लोगों को ठगने वाले को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

Whatsapp

छतरपुर: मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही व क्षेत्र की बदहाली की तस्वीर देखने को मिली। जहां शव वाहन के अभाव में परिजनों को शव कंधे पर रखकर ले जाना पड़ा। छतरपुर में इस प्रकार की लगातार दूसरी घटना सामने आई है।

जानकारी के अनुसार,  सुनवाहा गांव में आकाशीय बिजली गिरने से हल्ले साहू पिता प्यारे लाल साहू उम्र 40 वर्ष की मौत हो गई। डायल 100 को सूचना देने पर शव वाहन न होने का हवाला देकर पल्ला झाड़ लिया। जिसके चलते परिजन शव को ट्रेक्टर पर रख कर ले गए। लेकिन प्रशासनिक लापरवाही के कारण खुदी पड़ी सड़क पर बारिश के कारण थोड़ी दूर पहुंचने के बाद ही ट्रेक्टर फंस गया और अस्पताल तक नहीं पहुंच सका। मजबूरन परिजनों ने खटिया को ट्रेक्टर से उतार कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तक कंधो पर ले आना उचित समझा। जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।

बता दें कि बक्सवाहा में24 घंटे में इस प्रकार का यह दूसरा मामला इससे पहले भी एक परिवार स्ट्रेचर को कंधे पर रखकर शव को पोस्टमार्टम के लिए ले गए थे। वहीं इस मामले पर जहां भाजपा नेता पुष्पेंद्र प्रताप सिंह ने कांग्रेस सरकार की नाकामियों को गिनाना शुरु कर दिया वहीं जिला अधिकारी अपर कलेक्टर (ADM) प्रेम सिंह चौहान ने समस्या का जल्द समाधान कर सुधार लाने की बात कही।