दलित का शव ले जाने से रोका, पुल से लटकाकर पहुंचाया श्मशान, वीडियो वायरल

Whatsapp

चेन्नई: एक दलित व्यक्ति की शवयात्रा को स्थानीय उच्च-जाति समुदाय के लोगों ने सड़क से नहीं जाने दिया तो श्मशान घाट पहंचने के लिए 20 फीट ऊंचे पुल का इस्तेमाल करना पड़ा। शव को अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट ले जाया जाना था, लेकिन समुदाय के कुछ लोगों की जमीन रास्ते में पड़ती है। इस वजह से दलित के शव को लोग मुख्य रास्ते से नहीं जे पाए। नदी के ऊपर बने पुल से शव को लटकाकर नीचे उतारा गया। घटना तमिलनाडु के वेल्लोर जिले के वानियाम्बड़ी तालुक में पेश आई।

Shilpa Nair@NairShilpa1308

Dead body of a Dalit man had to be lowered from a bridge as people belonging to upper caste community allegedly denied permission to take out his funeral procession through their agricultural lands in Vellore.

This is the sad reality of 21st century India!

Embedded video

4,453 people are talking about this

दलित सुमदाय के युवक एन कुप्पन का शनिवार को निधन हो गया था। पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के मैदान में ले जाया जाना था, लेकिन वहां जाने के लिए कुछ उच्च जाति के स्थानीय लोगों की कृषि भूमि से होकर गुजरना था। उन्होंने शवयात्रा को प्रवेश देने से इनकार कर दिया। इसके बाद दर्जनभर लोगों ने धीरे-धीरे पुल से स्ट्रेचर को नीचे उतारा।

इसका वीडिया भी वायरल हो गया और उसमें साफ देखा जा सकता है कि कितने खतरे से खेलते हुए ऐसे शव को उतारा जा रहा है। इस दौरान शव से मालाएं भी गिरती देखी गईं। यहां दलित समुदाय के पास खुद का एक श्मशान भी नहीं है। हालांकि यह पहली बार नहीं है कि इस तरह की घटना हुई है। समुदाय के अनुसार भेदभाद का सामना उन्होंने पहले भी कई बार किया हैं।