BJP नेता के डेयरी फार्म में एक दर्जन से ज्यादा गायों की मौत, होगी मजिस्ट्रियल जांच

देवास: देवास रबादिया गांव में भाजपा नेता के डेयरी फार्म में एक दर्जन से ज्यादा गायों की मौत हो गई। इतनी बड़ी संख्या में गायों की मौत का कारण लापरवाही बताया जा रहा है। मामले की गंभीरता को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं।

जानकारी के अनुसार, बुधवार को देवास नगर निगम के अधिकारियों ने एक शिकायत के बाद डेयरी फार्म का निरीक्षण किया तो इस दौरान बाउंड्री के अंदर एक दर्जन से ज्यादा मरी हुई गायें मिलीं। शिकायत में आरोप लगाया गया था कि इस डेयरी फार्म में गायों को ठीक तरह से सुविधा नहीं मिल रही है। यह डेयरी फार्म बीजेपी नेता वरुण अग्रवाल का बताया जा रहा है। इसके अलावा इस डेयरी फार्म में दर्जनों गायें कीचड़ में लिप्त पाई गईं।

वहीं बीजेपी नेता इस जांच के बाद प्रदेश सरकार के निशाने पर आ गए हैं। कांग्रेस पार्टी ने विपक्षी बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि पार्टी ने गायों को लेकर सिर्फ राजनीति की है, गायों के कल्याण के लिए कुछ नहीं किया। विज्ञप्ति में कहा गया कि एक ओर कांग्रेस सरकार राज्य में 1000 गौशालाएं स्थापित करने का काम कर रही है, वहीं दूसरी भाजपा नेताओं द्वारा चलाए जा रहे फार्म हाउस और गौशालाओं में लापरवाही बरती जा रही है।

गौरतलब है कि 15 अगस्त 2019 को वरुण को जिला प्रशासन की ओर से लावारिश गायों की देखभाल के लिए अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था।

इस मामलें का खुलासा उस वक्त हुआ जब सोमवार को नूतन नगर इलाके से दो और गायों को इस डेयरी फार्म में भेजा गया, जो गड्ढे में पड़ी मिली थी। हालांकि, बाद में पता चला कि ये दोनों गाय अंबारम नाम के किसी शख्स की हैं। जब अंबारम डेयरी फार्म में अपने मवेशियों को छुड़ाने गए तो वहां गायों की बदहाली देखी। इसके बाद अंबारम ने नगर निगम के अधिकारियों से इसकी शिकायत की और कार्रवाई की मांग की।