VIDEO: जब एक दुकान में अचानक पहुंची ममता बनर्जी, बोली- हटो हम बनाते हैं चाय

Whatsapp

कोलकाताः पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का बुधवार को एक अलग ही रूप देखने को मिला जिससे लोग भी हैरान रह गए। दरअसल ममता बुधवार को पश्चिम बंगाल के दीघा में पहुंची तो इस दौरान वहां काफी देर रूकी रही और उनसे बातचीत की। इस दौरान ममता ने खुद अपने हाथों से चाय बनाई और लोगों को भी पिलाई। ममता बनर्जी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक शेयर किया जिसमें वह छोटी- सी दुकान में खड़ी दिख रही हैं और चाय बना रही हैं। ममता बनर्जी ने ट्वीट किया कि जीवन में कभी-कभी छोटी खुशियां हमें ज्यादा खुश कर देती हैं, चाय बनाना और उसे बांटना उनमें से एक है।

PunjabKesari

Mamata Banerjee

@MamataOfficial

Sometimes the little joys in life can make us happy. Making and sharing some nice tea (cha/chai) is one of them. Today, in Duttapur, Digha | কখনো জীবনের ছোট ছোট মুহূর্ত আমাদের বিশেষ আনন্দ দেয়। চা বানিয়ে খাওয়ানো তারমধ্যে একটা। আজ দীঘার দত্তপুরে।

Embedded video

345 people are talking about this

ममता जब लोगों के बीच पहुंची तो पहले उनसे बातचीत शुरू की और फिर बात करते-करते वह चूल्हे के पास पहुंच गई और चाय बनानी शुरू कर दी। चाय बनाने से पहले वे एक छोटे से बच्चे को अपनी गोद में खिलाती दिखीं। उन्होंने दुकान से एक चीज खरीदी और बच्चे को दी। सभी उस बदली हुई ममता को हैरानी से देख रहे थे। ममता ने चूल्हे के पास खड़े आदमी को वहां से हटने के लिए कहा और खुद उसकी जगह खड़ी हो गईं। उन्होंने पहले चाय को छाना और फिर उसे लोगों में बांटा।

Mamata Banerjee

@MamataOfficial

Spent some time today interacting with residents of Duttapur village in Digha | আজ দীঘার দত্তপুর গ্রামের বাসিন্দাদের সঙ্গে আলাপ আলোচনার কিছ মুহূর্ত।

159 people are talking about this

उल्लेखनीय है कि इन दिनों सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने लोगों की शिकायतों को हल करने और उनकी समस्याओं को सुनने के लिए ‘दीदी के बोलो’ हेल्पलाइन शुरू की हैं जिसके जरिए लोग ममता सरकार तक अपने परेशानियां और समस्याएं पहुंचाते हैं। ‘दीदी के बोलो’ हेल्पलाइन की शुरुआत रणनीतिकार प्रशांत किशोर की उपज है।