CM कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी गिरफ्तार, 354 करोड़ के घोटाले का आरोप

Whatsapp

भोपाल: मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के भांजे रतुलपुरी को 300 करोड़ से ज्यादा के बैंक घोटाले के आरोप में ईडी ने मंगलवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है। दो दिन पहले ही सीबीआई ने इस मामले में रतुल पुरी और अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पुरी मोजरबेयर के पूर्व कार्यकारी निदेशक भी रह चुके हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रतुल पुरी और अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।

उनके खिलाफ यह कार्रवाई सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से दायर 354 करोड़ रुपये के बैंक घोटाले मामले में दर्ज मुकद्दमें के तहत की गई है। जिसके बाद दिल्ली हाईकोर्ट ने 14 अगस्त को पुरी को 20 अगस्त तक गिरफ्तारी से अंतरिम संरक्षण प्रदान किया था।

केंद्रीय जांच एजेंसी ने जिन पर मुकदमा दर्ज किया था उनमें पुरी के अलावा कंपनी (एमबीआईएल), उनके पिता और प्रबंध निदेशक दीपक पुरी, निदेशकों रतुलपुरी की मां नीता पुरी, संजय जैन और विनीत शर्मा शामिल हैं। अधिकारियों के अनुसार इनसब पर कथित तौर पर आपराधिक षड्यंत्र रचने, धोखाधड़ी, फर्जीवाड़ा और भ्रष्टाचार के आरोप हैं।

बैंक ने एक बयान में बताया कि रतुल ने 2012 में कार्यकारी निदेशक के पद से इस्तीफा दे दिया था, जबकि उनके माता-पिता निदेशक मंडल में रहे। सीबीआई ने सोमवार को 6 स्थानों पर छापेमारी भी की थी।

बता दें रतुल पुरी 3,600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले की जांच के दायरे में भी हैं। लेकिन अब ईडी ने उन्हें बैंक घोटाला मामले में गिरफ्तार किया है। इससे पहले ईडी ने अदालत में ये बात भी कही थी रतुल पुरी अगस्ता वेस्टलैंड के मामले में जांच से बच रहे हैं। हालांकि पुरी ने अपने खिलाफ गैर जमानती वारंट रद्द करने के लिए कोर्ट में याचिका भी दायर की थी।