बर्थडे सेलिब्रेशन : कुशल परेरा ने खेली है टेस्ट क्रिकेट की महानतम पारी, ऐसे हुई थी रैंकिंग

Whatsapp

जालन्धर : श्रीलंका के दिग्गज प्लेयर कुशल परेरा के नाम टेस्ट क्रिकेट की महानतम पारी खेलने का रिकार्ड दर्ज हैं। बहुत कम लोगों को पता है कि 29 साल के कुशल ने बीते साल श्रीलंका के गाले के मैदान पर साऊथ अफ्रीका टीम को अपने अकेले दम पर हरा दिया था। कुशल की इस पारी को द गोल्डन विलो में सर्वश्रेष्ठ चुना गया था। खास बात यह थी कि इस लिस्ट में डॉन ब्रैडमैन, वीरेंद्र सहवाग की पारियां भी शामिल हैं।

देखें लिस्ट जिसमें खिलाडिय़ों को पारी के हिसाब से रेटिंग मिली थी

897.2 कुशल परेरा (153 नाबाद), श्रीलंका बनाम साऊथ अफ्रीका
866.6 ग्राम गूच (154 नाबाद), इंगलैंड बनाम विंडीज
812.8 सनथ जयसूर्या (253), श्रीलंका बनाम पाकिस्तान
809.9 डॉन ब्रैडमैन 270, ऑस्ट्रेलिया बनाम इंगलैंड
809.1 अजहर महमूद 132, पाकिस्तान बनाम साऊथ अफ्रीका
803.9 ब्रायल लारा, 153, वैस्टइंडीज बनाम ऑस्ट्रेलिया
796.9 वीरेंद्र सहवाग, 201, भारत बनाम श्रीलंका
790.6 इयान बोथम 149, इंगलैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया
789.9 सईद अनवर 188, पाकिस्तान बनाम भारत
787.9 वीवीएस लक्ष्मण 281, भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया

उक्त लिस्ट बनाने के लिए करीब 11 पैरामीटर को देखा गया था। इसमें कितने रन बनाए, विरोधी बॉलरों की क्वालिटी एवं रैंकिंग, पिच की क्वलिटी, अंतरिम पांच बल्लेबाजों के साथ साझेदारियां, बल्लेबाज के मैदान पर आने पर टारगेट कितना था, बल्लेबाज ने कितना कंट्रीब्यूट किया, मैच कहां हुआ और इसका रिजल्ट क्या आया भी इस पैरामीटर में शामिल थे।

कुशल की पारी की सबसे खास बात यह भी थी कि उन्होंने आखिरी पांच विकेटों के साथ 194 रन की साझेदारी की थी। जबकि आखिरी दो विकेटों के साथ 89 रन की। कुशल की इस पारी को इसलिए भी त्वज्जो मिली क्योंकि जिस डरबन की पिच पर उन्होंने रन बनाए उसपर पिछले 10 टेस्ट मैचों में औसत स्कोर 200 के पास था। कुशल ने न सिर्फ सेंचुरी लगाई बल्कि कठिन पिच पर टीम का स्कोर 311 तक भी पहुंचाया था।

ऐसा था मैच का हाल

साऊथ अफ्रीका की टीम ने पहले खेलते हुए 235 रन बनाए थे। क्वांटिम डी कॉक ने सबसे ज्यादा 80 रन बनाए। जवाब में श्रीलंकाई पारी महज 191 रन पर सिमट गई थी। यहां भी कुशल 51 रन बनाने में सफल रहे थे।  साऊथ अफ्रीका ने दूसरी पारी में कप्तान फाफ डु प्लेसिस के 90 रनों की बदौलत 259 रन बनाए थे। जवाब में 304 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंकाई टीम को अकेले कुशल का ही साराहा मिला। कुशल ने 309 गेंदों में 12 चौके और 5 छक्कों की मदद से 153 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी।